CBI vs CBI की वॉर के बारे में जाने, सरल भाषा मे

0
56

जयपुर। अगर आप टीवी देख रहे है या अख़बार पढ़ते है तो आपने इस खबर के बारे में सुना होंगा की सीबीआई ने अपने अधिकारी को ही गिरफ्तार कर लिया है.
इसके बाद आपके मन मे भी सवाल होंगे कि आखिर ये पूरा मामला क्या है. आपको बता दे कि इस मामले में दो प्रमुख किरदार है पहला है आलोक वर्मा जो सीबीआई में पहले स्थान पर है और दूसरा किरदार है राकेश अस्थान दो सीबीआई मे दूसरे नंबर के किरदार है.

यानी सीबीआई में नंबर 1 और नंबर 2 के अधिकारियों के बीच की लड़ाई है. अब सवाल ये है कि भाई लड़ाई किस बात की है, तो बता दे कि दोनों एक दूसरे पर रिश्वत लेने का आरोप लगा रहे है.

अस्थाना आलोक वर्मा पर मोइन कुरेशी से रिश्वत का आरोप लगा रहे है वहीं पर वर्मा भी मोइन कुर्शी से रिश्वत लेने का आरोप लगा रहे है. अब ये मोइन कुरेशी कौन है तो आपको बता दे कि मॉइन कुरेशी बहुत बड़ा मांस का एक्सपोर्टर है और इस पर मनी लॉन्ड्रिंग के कई आरोप है और इन मामलों को रफा दफा करने के लिए रिश्वत ली गई है ऐसे आरोप दोनो एक दूसरे पर लगा रहे है.

वहीं आपको बता दे कि मॉइन कुरेशी के चलते पिछले दो सीबीआई के अफसर अपनी नौकरी गवा चुके है.

अब सवाल की सोमवार को देवेंद्र कुमार जिसको गिरफ्तार किया गया है वो कौन है तो आपको बता दे कि राकेश अस्थाना के नीचे काम करने वाला अधिकारी है और अस्थाना के रिश्वत लेने के मामले में उनसे पूछताछ के लिए उन्हें गिरफ्तार किया गया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here