अक्षय तृतीया को इन कारणों से भी माना जाता है विशेष, मांगलिक काम के लिये भी रखता है खास महत्व

0
goddess mahalakshmi
mahalakshmi

जयपुर । अक्षय तृतीया के दिन को सबसे शुभ दिनों में से माना जाता है। इस दिन मां लक्ष्मी की कृपा के लिए विशेष पूजा अर्चना की जाती है। इसके साथ ही अक्षय तृतीया के दिन के लिए माना जाता है कि इस दिन भगवान परशुराम का अवतरण हुआ था, साथ ही इस दिन ब्रह्माजी के पुत्र अक्षय कुमार का भी आविर्भाव हुआ। अक्षय तृतीया का पर्व इस  साल 7 मई के दिन मनाया जाएगा।

अक्षय तृतीया के दिन के लिए माना जाता है कि इस दिन बगैर पंचांग को देखे ही कोई भा मांगलिक काम जैसे विवाह, गृह प्रवेश किए जा सकते हैं। इसके साथ ही इसी दिन बद्रीनाथ धाम के कपाट खुलते हैं व वृंदावन में श्री बांके बिहारी जी मंदिर में श्री विग्रह के चरण दर्शन भी कराये जाते हैं।

  • अक्षय तृतीया के दिन खास तौर पर सोना खरीदना शुभ माना जाता है, इस दिन खरीदा सोना घर में सुख समृद्धि लाता है।
  • अक्षय तृतीया के दिन लक्ष्मी नारायण की पूजा सफेद कमल अथवा सफेद गुलाब या पीले गुलाब से की जाती है, इसके साथ ही इन दिन बिना स्नान किए तुलसी के पत्ते नहीं तोड़ें जाते।

  • अक्षय तृतीया पर गंगा स्नान को भी महत्व दिया जाता है, इसलिये इस दिन तीर्थों में खासी भीड़ देखने को मिलती है।
  • अक्षय तृतीया पर दान करने का श्रेष्ठ फल मिलता है। आज के दिन पितरों के निमित्त किया गया पिंडदान या कोई भी दान अक्षय फल देने वाला होता है।

akshayatritiya-utsav

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here