नीति आयोग के स्कूल शिक्षा गुणवत्ता सूचकांक में केरल शीर्ष पर, उत्तर प्रदेश सबसे नीचे

0
258

जयपुर। केरल देश का ऐसा राज्य बन कर सामने आया है जहां पर स्कूलों बच्चों की शिक्षा सबसे अच्छे स्तर की हो रही है नीति आयोग द्वारा सोमवार को जारी करेगा स्कूल शिक्षा गुणवत्ता सूचकांक कम से इस बात का साफ तौर पर पता चलता है.

आयोग ने लर्निंग आउटकम सहित 30 मानकों के आधार पर यह रिपोर्ट तैयार की है. इसे तैयार करने के लिए 2016-17 के आंकड़ों का उपयोग किया गया है.

आपको बता दें कि इस रिपोर्ट का नाम 10 सक्सेस ऑफ आवर स्कूल स्कूल एजुकेशन क्वालिटी इंडेक्स है इससे नीति आयोग द्वारा मानव संसाधन विकास मंत्रालय और विश्व बैंक ने संयुक्त रूप से जारी करा है वहीं देश भर के राज्य और केंद्र शासित प्रदेशों से मिले आंकड़ों का अध्ययन कर रही यह रिपोर्ट जारी कर दी गई है, जिसके अंतर्गत से साल 2016 और 17 के दौरान स्कूल शिक्षा गुणवत्ता सूचकांक में देश के 20 बड़े राज्यों में केरल से स्थान पर है जबकि राजस्थान दूसरे और कर्नाटक का तीसरे स्थान पर है.

सात केंद्र शासित प्रदेशों में चंडीगढ़ इस सूची में पहले स्थान पर है. इसके बाद दादरा नगर हवेली, दिल्ली, पुडुचेरी, दमन एवं दीउ, अंडमान एवं निकोबार और लक्षद्वीप शामिल हैं.

इस रिपोर्ट के अनुसार बताया जा रहा है कि सबसे अधिक जनसंख्या वाला राज्य उत्तर प्रदेश इस मामले में सबसे निचले पायदान पर पहुंच गया है और इस सूचकांक में पश्चिम बंगाल में भाग नहीं लिया था, इस तरह के के 8 राज्यों में शिक्षा के सभी क्षेत्रों में प्रदर्शन के आधार पर मणिपुर पहले त्रिपुरा दूसरे और गोवा को तीसरा स्थान दिया गया है जिसके बाद मिजोरम नागालैंड सिक्किम मेघालय अरूणाचल प्रदेश जैसे प्रदेशों का नंबर आया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here