चौथे दिन भी बैठे हैं दिल्ली के सीएम धरने पर, कोई सुनने वाला क्यों नहीं है?

दिल्ली के सीएम के अलावा भाजपा के नेता भी दिल्ली के सीएम केजरीवाल के आवास पर धरने पर बैठें हुए हैं। वो भी दिल्ली के सीएम के खिलाफ काम ना करने का आरोप लगा रहे हैं।

0
198

जयपुर। दिल्ली की सीएम अरविंद केजरीवाल फिलहाल अपने सारे काम-काज को छोड़कर दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल के निवास पर धरने पर बैठे हुए हैं। खाना-पीना, उठना-बैठना और यहां तक कि सोना भी दिल्ली उपराज्यपाल के घर पर ही हो रहा है।

पहले तो ऐसा लगा था कि दिल्ली के सीएम 1 दिन के बाद धरना वापस ले लेंगे। लेकिन सड़कों पर धरना देने वाला सीएम उपराज्यपाल के आवास पर बैठ कर लगातार धरना दे रहा है। इस धरने में दिल्ली के सीएम के साथ साथ डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया और सत्येंद्र जैन भी शामिल हैं।

केजरीवाल का धरना असल मुद्दों से ध्यान हटाने की चाल : भाजपा

तीन दिन के धरने के बाद तीनों नेताओं का रूटीन चेकअप भी हुआ, जिसमें सत्येंद्र जैन की तबियत खराब बताई जा रही है।

खैर दिल्ली के सीएम के अलावा भाजपा के नेता भी दिल्ली के सीएम केजरीवाल के आवास पर धरने पर बैठें हुए हैं। वो भी दिल्ली के सीएम के खिलाफ काम ना करने का आरोप लगा रहे हैं।

हरियाणा के मुख्यमंत्री ने पानी की कमी पर केजरीवाल को पत्र लिखा

केजरीवाल ने अब अपनी सरकार के लिए पीएम मोदी को खत भी लिखा है। उनका कहना है कि दिल्ली में पिछले तीन महीने से कामकाज रुका हुआ है, क्योंकि दिल्ली के सारे आईएसएस ऑफिसर हड़ताल पर गए हुए हैं।

इस चिट्ठी में केजरीवाल ने पीएम मोदी से अनुरोध किया है कि वो उपराज्यपाल से बोल कर आईएएस ऑफिसर्स के धरने को समाप्त कराएं, ताकि दिल्ली मे रुके हुए कामों को बढ़ाया जाए।

दिल्ली के आईएएस ऑफिसर्स हड़ताल पर तीन महीने से हैं। दिल्ली के मुख्य सचिव अंशु प्रकाश के साथ केजरीवाल के घर पर कथित रूप से हुई मारपीट का सरकार पर आरोप लगाया गया था। इसके बाद अंशु प्रकाश ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया था। इसी कथित मारपीट की वजह से दिल्ली में आईएएस ऑफिसर्स हड़ताल पर गए हुए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here