पाकिस्तान सरकार ने किया ऐलान सिख यात्रियों के लिए खुलेगा करतारपुर बॉर्डर, जरूरी नहीं होगा वीजा

0
87

जयपुर, पाकिस्तान सरकार सिख तीर्थयात्रियों के लिए भारत पाक सीमा पर करतारपुर बॉर्डर को खोलेगी। इसकी घोषणा करते हुए उन्होंने कहा कि दरबार सिंह साहिब गुरूद्वारा जाने के लिए वीजा की जरूत नहीं है। पाकिस्तान के सूचना मंत्री फवाद चौधरी ने ने मीडिया से बात करते हुए यह जानकारी दी है। चौधरी ने कहा कि  सिखों के लिए गुरुद्वारा दर्शन करने हेतु एक प्रणाली विकसित की जा रही है।Image result for करतारपुर बॉर्डर

जिसमे विजा की जरूरत नहीं पड़ेगी और इस काम को करने के लिए जल्दी ही प्रयास किए जाएंगे। उन्होंने बताया कि प्रणाली के तहत यात्री एक विशेष टीकट खरीदकर आएगा, और मत्था टेककर लौट जाएगा। बता दें कि सीमा को खोले जाने का पाकिस्तान की ओऱ से पहेल ही संकेत दे दिया गया था। चौधरी ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि हम भारत के साथ शांति वार्ता करना चाहते है। लेकिन भारत की ओर से इसे लेकर कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है।Image result for फवाद चौधरी

चौधरी ने कहा कि पाकिस्तान सरकार यह जानती है कि दोनों देशों के अलग थलग रहने से देश का विकास नहीं किया जा सकता है। देश की आर्थिक स्थिति को सहारा देने के लिए दोनों देशों को मिलकर काम करना होगा। इसी के चलते वह भारत के साथ वार्ता करना चाहते है वहीं यह गुरूद्वारा करतारपुरा बॉर्डर से महज चार किलोमीटर की दूरी पर है।Related image

कहा जाता है कि गुरनानक साहब ने अपनी अंतिम सांस इसी स्थान पर ली थी। उन्होंने अपने जीवन के सत्रह वर्ष, पांच महीने और नौ दिन यहीं गुजारे थे। और यहीं से अपनी गद्दी दूसरे गुरू को दी थी। लेकिन हाल ही में दिया गया सेना प्रमुख के बयान के देखते हुए नहीं लगता कि दोनों देशों के बीच शांति स्थापित हो सकती है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here