Mahashivaratri 2021: महाशिवरात्रि पर बन रहा कल्याणकारी शिव योग, ऐसे करें पूजन

0

हिंदू धर्म पंचांग के मुताबिक महाशिवरात्रि का दिन बहुत ही शुभ माना जाता हैं इस दिन भक्त शिव पूजन और व्रत करते हैं हर साल यह त्योहार फाल्गुन मास के कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी तिथि को मनाया जाता हैं इस साल महाशिवरात्रि का त्योहार 11 मार्च को पड़ रहा हैं इस बार महाशिवरात्रि पर शिव योग के साथ घनिष्ठा नक्षत्र होगा और चंद्रमा मकर राशि में विराजमान रहेंगे। ज्योतिष अनुसार महाशिवरात्रि के दिन सुबह 9 बजकर 22 मिनट तक महान कल्याणकारी शिवयोग भी विद्यमान रहेगा। उसके बाद सभी कार्यों में सिद्धि दिलाने वाला सिद्धयोग आरंभ हो जाएगा। तो आज हम आपको महाशिवरात्रि पर्व के बारे में बता रहे हैं तो आइए जानते हैं।

शिव योग को स्वयं भगवान शिव से आशीर्वाद प्राप्त हैं कि जो उपस्थित रहने पर कोई भी धर्म कर्म मांगलिक अनुष्ठान आदि कार्य करेगा। संकल्पित कार्य कभी भी आधित नहीं होगा। उस कार्य का सुपरिणाम कभी निष्फल नहीं रहेगा। इसलिए इस योग के किए गए शुभकर्मों का फल अक्षुण रहता हैं सिद्ध योग में भी सभी आरंभ करके कार्यसिद्धि प्राप्त की जा सकती हैं इन योगों के विद्यमान रहने पर रुद्राभिषेक करना, शिव नामक कीर्तन करना, शिवपुराण का पाठ करना और शिव कथा सुनना, दान पुण्य करना, ज्योतिर्लिंगों के दर्शन करना अति​शुभ माना जाता हैं।

ज्योतिष अनुसार चतुर्दशी तिथि की शुरुआत 11 मार्च को दोपहर 2 बजकर 39 मिनट से शुरू होकर अगले दिन 12 मार्च को दोपहर 3 बजकर 2 मिनट तक रहेगा। महाशिवरात्रि पर्व में रात्रि की प्रधानता रहती हैं इस कारण 11 मार्च को महाशिवरात्रि पर्व मनाना शास्त्र सम्मत होगा। महाशिवरात्रि का निशीथ काल 11 मार्च को रात 12 बजकर 6 मिनट से 12 बजकर 55 मिनट तक रहेगा। यह पर्व देवों के देव महादेव शिव को समर्पित हैं इस दिन शिव भक्त महादेव का आशीर्वाद पाने के लिए कई पूजा पाठ और उपाय भी करते हैं।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here