ISL-7 : हाईलैंडर्स की प्लेऑफ की उम्मीदों पर कुठाराघात करना चाहेगा ईस्ट बंगाल

0

हीरो इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) के सातवें सीजन में अब एससी ईस्ट बंगाल के लिए कुछ नहीं बचा है। वह सिर्फ अपने मान बचाने के लिए खेलना चाहेगी। मंगलवार को फातोर्दा स्टेडियम में उसका सामना जिस नॉर्थईस्ट युनाइटेड एफसी से होना है, उसके लिए हालांकि प्लेऑफ में जाने की उम्मीदें अभी बची हुई हैं। ईस्ट बंगाल के पास प्लेऑफ में जाने का मौका था लेकिन उसके अटैक ने उसे नीचा दिखाया। 21 जनवरी के बाद से कोलकाता की यह टीम छह मैचों में सिर्फ पांच गोल कर सकी है। इस दौरान उसने इन मैचों में सिर्फ 13 शॉट्स गोल पर लिए हैं।

अब उसके खाते में दो मैच बचे हैं। ऐसे में सहायक कोच टोनी ग्रैंट मानते हैं अब उनकी टीम असल परीक्षा से गुजरेगी क्योंकि उसे अपना आगे का हर मैच जीतना है और इस क्रम में उसका सबसे पहले सामना हाईलैंडर्स नाम से मशहूर पूर्वोत्तर की टीम से होना है।

ग्रैंट ने कहा, “इस क्लब के लिए खेलने के लिए आपको अलग तरह की तैयारी करनी होती है। अब क्वालिटी दिखाने का समय है और अब आपका असल टेस्ट होगा।”

हाईलैंडर्स के पास प्लेऑफ में जाने का पूरा मौका है लेकिन उसे अब अपने दोनों मैच जीतने हैं। ग्रैंट ने कहा, “मैं समझता हूं कि हाईलैंडर्स शानदार टीम है। इस टीम ने शानदार तरीके से सीजन की शुरुआत की। इस टीम के पास युवा और अनुभवी खिलाड़ियों का मिश्रण है। यह टीम टॉप-4 में रही थी और यह ऊपर जाने की हकदार है। हमें इस टीम के खिलाफ अच्छा खेल दिखाना होगा और इसके लिए हमें शारीरिक और मानसिक तौर पर तैयार रहना होगा।”

इस बीच, हाईलैंडर्स के लिए यह काफी अहम मुकाम है। यह टीम अब हार झेल नहीं सकती। टीम ने खालिद जमील के कोच बनने के बाद से शानदार प्रदर्शन किया है और उनकी देखरेख में यह सात मैचों में अजेय है। यह सब अच्छे अटैक के कारण सम्भव हो सका है। इस टीम के अटैक ने सात मैचों में 14 गोल किए हैं।

हाईलैंडर्स को प्लेऑफ में जाने के लिए अपने अगले दो मैच जीतने हैं लेकिन सहायक कोच एलिसन के. ने कहा है कि उनकी टीम अभी फिलहाल ईस्ट बंगाल के साथ होने वाले मुकाबले पर ही फोकस कर रही है।

एलिसन ने कहा, “हम कल होने वाले मुकाबले पर ध्यान लगाए हुए हैं। हम इसके बाद ही अंतिम मैच के बारे में सोचेंगे। कल का हमारा मैच काफी अहम है। हमें अच्छा खेलना होगा। हमें अच्छी तरह डिफेंड भी करना होगा साथ ही हमें अटैक भी अच्छा खेलना होगा। हमें मौके बनाने होंगे और उनका फायदा उठाना होगा। हमें 100 फीसदी देना होगा। हम इस मैच को हल्के में नहीं ले सकते। हमें अपनी इच्छाशक्ति दिखानी होगी और 90 मिनट तक बिना रुके खेलते हुए तीन अंक हासिल करने होंगे।”

न्यजू सत्रोत आईएएनएस

SHARE
Previous articleAirtel अब पसंदीदा टेलिकॉम ऑपरेटर, रिलायंस जियो नहीं
Next articleफोल्डेबल फीचर्स के साथ Huawei Mate X2 लॉन्च, कीमत जानिए
बहुत ही मुश्किल है अपने बारे में लिखना । इसलिए ज्यादा कुछ नहीं, मैं बहुत ही सरल व्यतित्व का व्यक्ति हूं । खुशमिजाज हूं ए इसलिए चेहरे पर हमेशा खुशी रहती हैए और मुझे अकेला रहना ज्यादा पंसद है। मेरा स्वभाव है कि मेरी बजह से किसी का कोई नुकसान नहीं होना चाहिए और ना ही किसी का दिल दुखना चाहिए। चाहे वो व्यक्ति अच्छा हो या बुरा। मेरे इस स्वभाव के कारण कभी कभी मुझे खामियाजा भी भुगतान पड़ता है। मैं अक्सर उनके बारे में सोचकर भुला देता हूं क्योंकि खुश रहने का हुनर सिर्फ मेरे पास है। मेरी अपनी विचारए विचारधारा है जिसे में अभिव्यक्त करता रहता हूं । जिन लोगों के विचारों से कभी प्रभावित भी होता हूं तो उन्हें फोलो कर लेता हूं । अभी सफर की शुरुआत है मैने कंप्यूटर ऑफ माटर्स की डिग्री हासिल की है और इस मीडीया क्षेत्र में अभी नया हूं। मगर मुझे अब इस क्षेत्र में काम करना अच्छा लग रहा है। और फिर इसी में काम करने का मन बना लेना दूसरों के लिये अश्चर्य पूर्ण होगा। लेकिन इससे पहले और आज भी ब्लागर ने एक मंच दिया चिठ्ठा के रुप में, जहां बिना रोक टोक के आसानी से सबकुछ लिखा या बताया जा सका। कभी कभी मन में उठ रही बातों या भावों को शब्दों में पिरोयाए उनमें खुद की और दूसरों की कहानी कही। कभी उनके द्वारा किसी को पुकाराए तो कभी खुद ही रूठ गया। कई बार लिखने पर भी मन सतुष्ट नहीं हुआ और निरंतर कुछ नया लिखने मन बनता रहता है। अजीब सी बेचैनी जो न जाने क्या करवाएगी और कितना कुछ कर गुजर जाने की तमन्ना लिए निकले हैं इन सफरों, जहां उम्मीद और विश्वास दोनों कायम हैं जो अर्जुन के भांति लक्ष्य को भेद देंगे । मुझे अभी अपने जीवन में बहुत कुछ करना है किसी के सपनों को पूरा करना हैं । अब तो बस मेरा एक ही लक्ष्य हैं कि मैं बस उसके सपने पूरें करू।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here