आईएसएल-6 : जीत के साथ क्रिसमस का जश्न मनाना चाहेंगे एटीके, बेंगलुरू (प्रीव्यू)

0

मेजबान एटीके बुधवार को यहां विवेकानंद युवा भारती क्रीडांगन में मौजूदा चैंपियन बेंगलुरू एफसी के खिलाफ होने वाले हीरो इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) के छठे सीजन के मैच में घर में अपना शानदार प्रदर्शन जारी रखना चाहेगी। कोच एंटोनियो हबास की एटीके इस सीजन की एकमात्र ऐसी टीम है जो अपने घर में अब तक अजेय चल रही है और टीम ने सबसे ज्यादा 10 गोल किए है। घर में टीम का डिफेंस काफी मजबूत रहा है और उसने अब तक तीन ही गोल खाए हैं।

एटीके की इस सीजन में इस घरेलू रिकॉर्ड की असली परीक्षा अब कार्लेस कुआड्राट की टीम बेंगलुरू एफसी के खिलाफ होगी, जो इस सीजन में घर के बाहर अब तक अजेय चल रही है।

हबास ने कहा, “हमें उनकी (बेंगलुरू) की तुलना इस सीजन की सर्वश्रेष्ठ टीमों में करनी होगी। हमारे लिए यह एक महत्वपूर्ण मैच है। मौजूदा चैंपियन के खिलाफ हमें अपने खेल का स्तर पता है और इसलिए यह मेरे और मेरे खिलाड़ियों के लिए काफी महत्वपूर्ण मैच है।”

टीम के स्टार खिलाड़ी रॉय कृष्णा अब आठ गोल कर चुके हैं। इन आठ गोलों में से पांच गोल उन्होंने पिछले चार मैचों में किया है।

दूसरी तरफ, बेंगलुरू का एटीके खिलाफ अब तक शतप्रतिशत का रिकॉर्ड रहा है। बेंगलुरू ने एटीके के खिलाफ अब तक चार मैच खेले हैं और चारों में उसने एटीके को धूल चटाई है। यहां तक कि एटीके की टीम इन चार मैचों में बेंगुलुरू के खिलाफ केवल एक ही गोल कर पाई है।

इस मैच में एटीके लिए बेंगलुरू के डिफेंस में सेंध लगाना आसान नहीं होगा क्योंकि मौजूदा चैंपियन ने नौ मैचों में अब तक केवल पांच ही गोल खाए हैं। बेंगलुरू ने इस सीजन में 11 गोल दागे हैं।

इस शानदार रिकॉर्ड के बावजूद बेंगलुरू को क्रॉस को गोल में बदलने के लिए संघर्ष करना पड़ा रहा है। 100 से अधिक क्रॉस के बावजूद टीम केवल एक ही गोल कर पाई है। बेंगलुरू इस समय अंकतालिका में 16 अंकों के साथ दूसरे नंबर पर है और टीम अगर यह मैच जीतती है तो वह टॉप पर पहुंच जाएगी।

कोच कुआड्राट ने कहा, “निश्चित रूप से, इस मैच के लिए हमारे पास प्लान है। हम उन्हें दबाव में लाने की कोशिश करेंगे। उनके पास दो शानदार फॉरवर्ड (कृष्णा और विलियम्स) हैं। मुझे लगता है कि एटीके की यह एक होशियारी है कि वह उन खिलाड़ियों को ला रहा है, जो एकसाथ खेल रहे हैं।”

एटीके 15 अंकों के साथ बेंगलुरू से एक स्थान नीचे तीसरे नंबर पर है। टीम को एफसी गोवा से 1-2 से हार मिली है जबकि हैदाबाद एफसी के खिलाफ उसने 2-2 से ड्रॉ खेला था।

कुआड्राट ने कहा, “यह एक स्पेशल दिन है क्योंकि क्रिसमस का दिन है और मुझे उम्मीद है कि हम जीत के साथ सभी भारतीय फुटबाल फैन्स को क्रिसमस की बधाई देंगे।”

न्यूज स्त्रोत आईएएनएस

SHARE
Previous articleबॉक्सिंग डे टेस्ट मैच के लिए फिट वार्नर : लेंगर
Next articleकार्य स्थलों पर महिलाओं के यौन उत्पीड़न में महाराष्ट्र अव्वल
बहुत ही मुश्किल है अपने बारे में लिखना । इसलिए ज्यादा कुछ नहीं, मैं बहुत ही सरल व्यतित्व का व्यक्ति हूं । खुशमिजाज हूं ए इसलिए चेहरे पर हमेशा खुशी रहती हैए और मुझे अकेला रहना ज्यादा पंसद है। मेरा स्वभाव है कि मेरी बजह से किसी का कोई नुकसान नहीं होना चाहिए और ना ही किसी का दिल दुखना चाहिए। चाहे वो व्यक्ति अच्छा हो या बुरा। मेरे इस स्वभाव के कारण कभी कभी मुझे खामियाजा भी भुगतान पड़ता है। मैं अक्सर उनके बारे में सोचकर भुला देता हूं क्योंकि खुश रहने का हुनर सिर्फ मेरे पास है। मेरी अपनी विचारए विचारधारा है जिसे में अभिव्यक्त करता रहता हूं । जिन लोगों के विचारों से कभी प्रभावित भी होता हूं तो उन्हें फोलो कर लेता हूं । अभी सफर की शुरुआत है मैने कंप्यूटर ऑफ माटर्स की डिग्री हासिल की है और इस मीडीया क्षेत्र में अभी नया हूं। मगर मुझे अब इस क्षेत्र में काम करना अच्छा लग रहा है। और फिर इसी में काम करने का मन बना लेना दूसरों के लिये अश्चर्य पूर्ण होगा। लेकिन इससे पहले और आज भी ब्लागर ने एक मंच दिया चिठ्ठा के रुप में, जहां बिना रोक टोक के आसानी से सबकुछ लिखा या बताया जा सका। कभी कभी मन में उठ रही बातों या भावों को शब्दों में पिरोयाए उनमें खुद की और दूसरों की कहानी कही। कभी उनके द्वारा किसी को पुकाराए तो कभी खुद ही रूठ गया। कई बार लिखने पर भी मन सतुष्ट नहीं हुआ और निरंतर कुछ नया लिखने मन बनता रहता है। अजीब सी बेचैनी जो न जाने क्या करवाएगी और कितना कुछ कर गुजर जाने की तमन्ना लिए निकले हैं इन सफरों, जहां उम्मीद और विश्वास दोनों कायम हैं जो अर्जुन के भांति लक्ष्य को भेद देंगे । मुझे अभी अपने जीवन में बहुत कुछ करना है किसी के सपनों को पूरा करना हैं । अब तो बस मेरा एक ही लक्ष्य हैं कि मैं बस उसके सपने पूरें करू।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here