अपने ही गुर्गों के हमले में बाल-बाल बचा आईएसआई सरगना बगदादी – रिपोर्ट

0
129

जयपुर, सीरिया और इराक में पूरी तरह से मात खाने के बाद आतंकी संगठन आईएसआई मे विद्रोह हो गया है। जहां अपने ही गुर्गों के हमले में सरगना अबु बकर अल-बगदादी बाल बाल बच गया है। बताया जा रहा है कि यह घटना पिछले महिनें की है। बताया जा रहा है कि इस हमले में बगदादी के दो भरोसेमंद व्यक्ति मारे गए जबकि बगदादी बच गया । मामले को लेकर ब्रिटिश अखबार The Guardian  ने एक रिपोर्ट भी प्रकाशित की है।

रिपोर्ट के अनुसार बगदादी पर यह हमला 10 जनवरी को पूर्वी सीरिया स्थित हाजिन के नजदीक एक गांव में हुआ था, जिसके बाद वह अपने गार्डो क साथ पास के रेगिस्तान में भाग गया था। वहीं इस हमले के बाद ISIS ने अपने वरिष्ठ सदस्य अबु मुआत अल-जजैरी को जान से मारने वाले पर इनाम रखा है।

रिपोर्ट में इस बात का उल्लेख है कि सीरिया और ईराक में बुरी तरह से हुई हार के बाद बौखलाए बगदादी ने अपने ही 320 ‘लड़ाकों’ को कथित तौर पर ‘धोखा देने’ की बात करते हुए मारने का आदेश दिया था। जिसके बाद बगदादी पर हमला हुआ है।Image result for आईएसआई आतंकी

बता दें कि जिन आतंकियों को मारने का आदेश दिया गया है उनमें अबुल अल बरा अल अंसारी, सइफ अल-दीन अल-इराकी, अबु कूतम अल-ताल आफरी, अबु ईमान अल-मोवाहिद और मारवान हदीद अल-सुरी जैसे हाई-प्रोफाइल कमांडर शामिल हैं। साल 2014 के मध्य के बाद से बगदादी को सार्वजनिक तौर पर नहीं देखा गया है। बता दें कि इससे पहले सीरिया और इराक के अधिकांश हिस्सों पर आईएसआई का कब्जा था।Image result for आईएसआई आतंकी

लेकिन अमेरिकी सेना की वजह से अब यह संगठन सीरिया के एक प्रतिशत हिस्से तक सीमित रह गया है। बताया जा रहा है कि साल 2015 में isis के लड़ाकों की संख्या करीब 70 हजार थी, लेकिन अब महज पांच सौ रह गई है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here