सउदी अरब हमले ​के लिए ईरान को माना जिम्मदार,अमेरिका ने लगाया ईरानी केंद्रीय बैंक और फंड पर प्रतिबंध

0
49

जयपुर।अमेरिका और ईरान के बीच चल रहे तनाव के बाद अमेरिका ने ईरान पर कई प्रतिबंध लगा दिए थे और अब अमेरिका ने ईरान के खिलाफ लगाए गए प्रतिबंधों में बढ़ोतरी कर दी है।अमेरिका द्वारा लगाए गए प्रतिबंधों में अब ईरान के केंद्रीय बैंक और एक डेवलपमेंट फंड को भी संयुक्त राष्ट्र के प्रतिबंध के दायरे में ले लिया गया है।

पिछले सप्ताह शनिवार को सउदी अरब के अरामको तेल संयंत्रों पर हुए आतंकी हमले के बाद ईरान के खिलाफ यह पहली बड़ी कार्रवाई की गई है।क्योंकि इन हमलों के लिए सउदी अरब और अमेरिका ने ईरान को ही जिम्मेदार ठहराया था।

इस समय आॅस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री स्कॉट मौरिसन अमेरिका के दौरे पर आए हुए और उनके साथ एक प्रेस कॉफ्रेंस के दौरान राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप ने बताया कि ईरान पर अब प्रतिबंध बढा दिए गए है।अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप ने ट्विटर पर प्रतिबंधों को बढ़ाने की घोषणा की थी और कहा था कि,’ईरान के खिलाफ की गई यह कार्रवाई प्रतिबंधों का सर्वोच्च स्तर है।’

ईरान पर लगे इन प्रतिबंधो को लेकर अमेरिकी ट्रेजरी सचिव स्टीवन मेनुचिन ने एक बयान में बताया है कि,सेंट्रल बैंक आॅफ ईरान,द नेशनल डेवलपमेंट फंड आॅफ ईरान और ईरानी कंपनी एतेमाद तेजारेत पार्स पर प्रतिबंध लगाया गया है।इन तीनो संस्थानो को अमेरिकी अधिकारियो ने ईरानी सेना के लिए हथियारो की खरीद के लिए होने वाले गोपनीय वित्तीय लेनदेन में शामिल पाया गया था।

दूसरी तरफ ईरान के खिलाफ सैन्य कार्रवाई की संभावना के बारे में अमेरिका के राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप ने बताया कि सैन्य ​कार्रवाई की गुजांइश है और अमेरिका इसके लिए तैयार भी है,लेकिन इस टराव का हम शांति पूर्ण हल चाहते है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here