IPL-13 : नई शुरुआत करना चाहेंगी पंजाब और मुंबई

0

किंग्स इलेवन पंजाब और मुंबई इंडियंस इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 13वें संस्करण में अपने पिछले मैचों में मिली करीबी हारों को पीछे छोड़ नई शुरुआत करना चाहेंगी। दोनों टीमें आज यहां शेख जाएद स्टेडियम में आमने-सामने होंगी। पंजाब को पिछले मैच में राजस्थान रॉयल्स ने मात दी थी। 223 रन बनाने के बाद भी पंजाब को हार मिली थी और राजस्थान ने रोमांचक अंदाज में जीत हासिल की थी जो आईपीएल में लक्ष्य की पीछा करते हुए सबसे बड़ी जीत थी।

मयंक अग्रवाल के पहले शतक और कप्तान लोकेश राहुल की बेहतरीन पारियों के दम पर पंजाब ने पहले बल्लेबाजी करते हुए विशाल स्कोर खड़ा किया था। लेकिन संजू सैमसन, स्टीव स्मिथ के बाद राहुल तेवतिया के अविश्वसनीय प्रदर्शन के दम पर राजस्थान ने वो लक्ष्य हासिल कर पंजाब को हराया था।

गेंदबाजी इसमें अहम कारण रही थी, जिसने रन लीक किए थे। शेल्डन कॉटरेल द्वारा फेंके गए 18वें ओवर में तेवतिया ने पांच छक्के मारे थे और कुल मिलाकर 7 छक्के जड़े।

देखना होगा कि क्या टीम प्रबंधन यहां बदलाव करता है कि नहीं। मोहम्मद शमी का खेलना तय है और रवि बिश्नोई का भी। मुरुगन अश्विन ने भी अच्छी गेंदबाजी की थी। जिम्मी नीशाम ने भी टीम को अहम समय पर विकेट दिलाया था। ऐसे में अगर गाज गिरती है तो वो कॉटरेल पर ही गिर सकती है जिनके ओवर ने मैच पलट दिया था।

बल्लेबाजी में पंजाब के लिए कोई समस्या नहीं है। राहुल और मयंक फॉर्म में हैं। इसका मतलब है कि एक और मैच में यूनिवर्स बॉस क्रिस्टोफर हेनरी गेल को बाहर बैठना पड़ेगा।

मध्य क्रम में करुण नायर, सरफराज, निकलोस पूरन, ग्लैन मैक्सेवल हैं। पूरन और मैक्सवेल ने पिछले मैच में आखिरी ओवरों में बड़े शॉट्स लगाए थे जो बताता है कि इन दोनों का बल्ला चल रहा है।

वहीं, अगर मुंबई की बात की जाए तो उसने भी हार के मुंह से वापसी की थी, लेकिन सुपर ओवर में उसकी किस्मत जबाव दे गई जहां बेंगलोर ने उसे हरा दिया।

सौरभ तिवारी की जगह टीम में आने वाले युवा ईशान किशन ने जिस तरह का अविश्वसनीय प्रदर्शन किया वो सभी की नजरों में हैं और किशन अब दूसरी टीमों के लिए वो खतरा बन गए हैं जो कहीं से भी मैच पलट सकता है। सोने पर सुहागा तब हुआ, जब किशन को कीरन पोलार्ड का साथ मिला। दोनों ने मिलकर टीम को जीत की दहलीज पर ला खड़ा किय था, लेकिन पार नहीं करा पाए थे।

किशन एक रन से शतक से चूक गए थे। उन्होंने 58 गेंदों पर दो चौके और नौ शानदार छक्कों के साथ 99 रनों की पारी खेली थी। पोलार्ड ने 24 गेंदों पर 60 रन बनाए थे।

बेंगलोर के खिलाफ मुंबई का ऊपरी क्रम जरूर विफल रहा था लेकिन क्विंटन डी कॉक, रोहित शर्मा, सूर्यकुमार यादव ने पिछले मैचों में अच्छा किया था। इसलिए बल्लेबाजी में मुंबई की चिंता नहीं होगी।

गेंदबाजी में टीम का दारोमदार जसप्रीत बुमराह, ट्रेंट बोल्ट और जेम्स पैटिनसन पर है। स्पिन में राहुल चहर और क्रूणाल पांड्या हैं।

मुंबई इंडियंस : रोहित शर्मा (कप्तान), आदित्य तारे (विकेटकीपर), अनमोलप्रीत सिंह, अनुकूल रॉय, क्रिस लिन, धवल कुलकर्णी, दिग्विजय देशमुख, हार्दिक पांड्या, ईशान किशन, जेम्स पैटिनसन, जसप्रीत बुमराह, जयंत यादव, कीरन पोलार्ड, क्रुणाल पांड्या, मिशेल मैक्लेंघन, मोहसिन खान, नाथन कल्टर नाइल, प्रिंस बलवंत राय, क्विंटन डी कॉक (विकेटकीपर), राहुल चहर, सौरभ तिवारी, शेरफाने रदरफोर्ड, सूर्यकुमार यादव, ट्रेंट बोल्ट।

किंग्स इलेवन पंजाब : लोकेश राहुल (कप्तान), मयंक अग्रवाल, करुण नायर, सरफराज खान, ग्लैन मैक्सवेल, निकोलस पूरन, कृष्णाप्पा गौतम, क्रिस जोर्डन, शेल्डन कॉटरेल, रवि बिश्नोई, मोहम्मद शमी, मुरुगन अश्विन, अर्शदीप सिंह, क्रिस गेल, मनदीप सिंह, हरडस विजोलेन, दीपक हुड्डा, हरप्रीत ब्ररार, मुजीब उर रहमान, दर्शन नालकंडे, जिम्मी नीशाम, ईशान पोरेल, सिमरन सिंह, जगदीश सुचित, तेजिंदर सिंह।

न्यूज स्त्रोत आईएएनएस

SHARE
Previous articleImran Khan ने दिया राष्ट्रीय आपातकालीनहेल्पलाइन स्थापित करने का आदेश
Next articleAdhik mass purnima 2020: अधिकमास की पूर्णिमा आज, जानिए व्रत कथा और नियम
बहुत ही मुश्किल है अपने बारे में लिखना । इसलिए ज्यादा कुछ नहीं, मैं बहुत ही सरल व्यतित्व का व्यक्ति हूं । खुशमिजाज हूं ए इसलिए चेहरे पर हमेशा खुशी रहती हैए और मुझे अकेला रहना ज्यादा पंसद है। मेरा स्वभाव है कि मेरी बजह से किसी का कोई नुकसान नहीं होना चाहिए और ना ही किसी का दिल दुखना चाहिए। चाहे वो व्यक्ति अच्छा हो या बुरा। मेरे इस स्वभाव के कारण कभी कभी मुझे खामियाजा भी भुगतान पड़ता है। मैं अक्सर उनके बारे में सोचकर भुला देता हूं क्योंकि खुश रहने का हुनर सिर्फ मेरे पास है। मेरी अपनी विचारए विचारधारा है जिसे में अभिव्यक्त करता रहता हूं । जिन लोगों के विचारों से कभी प्रभावित भी होता हूं तो उन्हें फोलो कर लेता हूं । अभी सफर की शुरुआत है मैने कंप्यूटर ऑफ माटर्स की डिग्री हासिल की है और इस मीडीया क्षेत्र में अभी नया हूं। मगर मुझे अब इस क्षेत्र में काम करना अच्छा लग रहा है। और फिर इसी में काम करने का मन बना लेना दूसरों के लिये अश्चर्य पूर्ण होगा। लेकिन इससे पहले और आज भी ब्लागर ने एक मंच दिया चिठ्ठा के रुप में, जहां बिना रोक टोक के आसानी से सबकुछ लिखा या बताया जा सका। कभी कभी मन में उठ रही बातों या भावों को शब्दों में पिरोयाए उनमें खुद की और दूसरों की कहानी कही। कभी उनके द्वारा किसी को पुकाराए तो कभी खुद ही रूठ गया। कई बार लिखने पर भी मन सतुष्ट नहीं हुआ और निरंतर कुछ नया लिखने मन बनता रहता है। अजीब सी बेचैनी जो न जाने क्या करवाएगी और कितना कुछ कर गुजर जाने की तमन्ना लिए निकले हैं इन सफरों, जहां उम्मीद और विश्वास दोनों कायम हैं जो अर्जुन के भांति लक्ष्य को भेद देंगे । मुझे अभी अपने जीवन में बहुत कुछ करना है किसी के सपनों को पूरा करना हैं । अब तो बस मेरा एक ही लक्ष्य हैं कि मैं बस उसके सपने पूरें करू।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here