INDvsENG: टीम इंडिया पर बादलों का साया, जानिए ओवल में कैसा रहने वाला है मौसम और पिच का मिज़ाज

टीम इंडिया अंतिम टेस्ट मैच में सात सितंबर से उतरेगी । बता दें की भारत पहले पांच टेस्ट मैचों की सीरीज में 3-1 से पिछड़ते हुए उसके गंवा चुका है । यह टेस्ट मैच में इंग्लैंड केपूर्व कप्तान एलिस्टर कुक के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण रहने वाला है। क्योंकि इस मैच के बाद कुक अतंर्राष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास लेंगे ।

0
82

जयपुर (स्पोर्ट्सडेस्क) टीम इंडिया अंतिम टेस्ट मैच में सात सितंबर से उतरेगी । बता दें की भारत पहले पांच टेस्ट मैचों की सीरीज में 3-1 से पिछड़ते हुए उसके गंवा चुका है । यह टेस्ट मैच में इंग्लैंड केपूर्व कप्तान एलिस्टर कुक के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण रहने वाला है। क्योंकि इस मैच के बाद कुक अतंर्राष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास लेंगे ।

इसलिए इंग्लैंड प्रमुख रुप से जीत दर्ज करके सीरीज में आगे बढ़ना चाहिए । वैसे देखा जाए तो भारत के हिसाब से ओवल में होने वाले वाला मैच महज औपचारिकता बन गया है कि भारत के लिए 2- नतीजा 1-4 से कहीं बेहतरह होगा और टीम टेस्ट जीत के लिए बेताब है।

आइए जानते हैं कि पांचवा टेस्ट में पिच कैसी रहेगी और मौसम का क्या हाल रहेगा । वैसे ख़बरों की माने तो लंदन में अगले कुछ दिनों मौसम अच्छा है लेकिन बादल छाए रहेंगे। तापमान 18 से 23 डिग्री रहेगा । ह्यूमिडिटी 66 प्रतिशत रहेगी । मौसम शुरु में गेंदबाजों की मदद करेगा । ओवल के मैदान को बल्लेबाजों के लिए अनुकूल समझा जाता है इसलिए यहां अधिक रन बनाने की संभावना है लेकिन स्पिनर्स को भी पिच मदद करेगी ।

केनिंगटन में पाचों दिन बादलों के छाए रहने की संभावना होगी। पहले दिन बारिश की संभावना है इसलिए इंग्लैंड एक बार फिर पहले बल्लेबाजी करना चाहेगा भारत भी पहले बल्लेबाजी करना चाहैेगी । इस मैदान के आंकड़े बताते हैं कि पहले बल्लेबाजी करने वाली टीम ज्यादा रन बनाती है,

हालांकि इंग्लैंड यहां खेले गए पिछले तीन टेस्ट मैचों में से दो पाकिस्तान और ऑस्ट्रेलिया से हार चुका है। जबकि तीसरा टेस्ट वह दक्षिण अफ्रीका से जीता है. पिच आखिरी हिस्से में स्पिनर्स की मदद करेगी । वहीं  मोइन अली ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ खेले गए अंतिम मैच में 4 विकेट लिए थे

, पाकिस्तानी स्पिनर यासिर शाह 2016 में यहां खेले टेस्ट में तीसरी पारी में 5 विकेट लिए थे. इसे देखते हुए भारत चौथी पारी खेलना नहीं चाहेगा। वैसे नजर डालिए जाए तो इस मैदान का इतिहास पहली पारी बड़ा स्कोर खड़ करके जीतने का सबसे बड़ा बिंदु  है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here