इंडियन गोल्फ एंड टर्फ एक्सपो अगले महीने

0
35

भारत में हर साल होने वाला गोल्फ एंड टर्फ एक्सपो (आईजीटीआई) इस साल राष्ट्रीय राजधानी के त्यागराज स्टेडियम में 26-27 अप्रैल को आयोजित किया जाएगा। यह दक्षिण एशिया का सबसे बड़ा गोल्फ उद्योग व्यापार शो है जिसका आठवां संस्करण इस साल आयोजित किया जाना है। इसका मकसद देश में गोल्फ का माहौल तैयार करना और उसे आगे ले जाना है।

आईजीटीई-2019 में लगभग 50 घरेलू और अंतर्राष्ट्रीय कंपनियां अपने उत्पादों को इस सम्मेलन में प्रस्तुत करेंगी। देश भर के लगभग 37 गोल्फ क्लबों ने भी अपनी भागीदारी की पुष्टि की है। इसमें कुल 500 लोग हिस्सा लेंगे।

केंद्र सरकार के पर्यटन मंत्रालय के संयुक्त सचिव सुमन बिल्ला (आईएएस) ने इस कार्यक्रम के उदघाटन पर कहा, “भारत सरकार के पर्यटन मंत्रालय ने लंबे समय से गोल्फ को एक संभावित पर्यटन बूस्टर के रूप में देखा है और देश में ज्यादा से ज्यादा कोर्स बनाने पर जोर दिया है।”

एशियाई खेलों के पूर्व स्वर्ण पदक विजेता ऋषि नारायण भी इस मौके पर मौजूद थे। उन्होंने कहा, “गोल्फ इंडस्ट्री एसोसिएशन ने गोल्फ पर्यटन के माध्यम से अगले पांच वर्षों में 100 करोड़ का राजस्व हासिल करने का लक्ष्य रखा है।”

आईजीटीई 2019 में भारतीय गोल्फ संघ (आईजीयू), भारतीय महिला गोल्फ संघ (डब्ल्यूजीएआई) और गोल्फ कोर्स के अधीक्षक व प्रबंधक एसोसिएशन ऑफ इंडिया (जी. सीएसएमएआई) शामिल हैं।

भारत में 240 से अधिक गोल्फ कोर्स हैं और लगभग 150,000 लोग इसे खेलते हैं। पिछले पांच वर्षों में, भारत ने इसमें 5000 करोड़ से अधिक निवेश आकर्षित किया है।

न्यूज स्त्रोत आईएएनएस


SHARE
Previous articleखड़े होते ही आने लगते हैं चक्कर छा जाता है आँखों के आगे अंधेरा तो आज ही हो जाएँ सावधान
Next articleश्रीसंत पर प्रतिबंध हटने से परिवार में खुशी का माहौल
बहुत ही मुश्किल है अपने बारे में लिखना । इसलिए ज्यादा कुछ नहीं, मैं बहुत ही सरल व्यतित्व का व्यक्ति हूं । खुशमिजाज हूं ए इसलिए चेहरे पर हमेशा खुशी रहती हैए और मुझे अकेला रहना ज्यादा पंसद है। मेरा स्वभाव है कि मेरी बजह से किसी का कोई नुकसान नहीं होना चाहिए और ना ही किसी का दिल दुखना चाहिए। चाहे वो व्यक्ति अच्छा हो या बुरा। मेरे इस स्वभाव के कारण कभी कभी मुझे खामियाजा भी भुगतान पड़ता है। मैं अक्सर उनके बारे में सोचकर भुला देता हूं क्योंकि खुश रहने का हुनर सिर्फ मेरे पास है। मेरी अपनी विचारए विचारधारा है जिसे में अभिव्यक्त करता रहता हूं । जिन लोगों के विचारों से कभी प्रभावित भी होता हूं तो उन्हें फोलो कर लेता हूं । अभी सफर की शुरुआत है मैने कंप्यूटर ऑफ माटर्स की डिग्री हासिल की है और इस मीडीया क्षेत्र में अभी नया हूं। मगर मुझे अब इस क्षेत्र में काम करना अच्छा लग रहा है। और फिर इसी में काम करने का मन बना लेना दूसरों के लिये अश्चर्य पूर्ण होगा। लेकिन इससे पहले और आज भी ब्लागर ने एक मंच दिया चिठ्ठा के रुप में, जहां बिना रोक टोक के आसानी से सबकुछ लिखा या बताया जा सका। कभी कभी मन में उठ रही बातों या भावों को शब्दों में पिरोयाए उनमें खुद की और दूसरों की कहानी कही। कभी उनके द्वारा किसी को पुकाराए तो कभी खुद ही रूठ गया। कई बार लिखने पर भी मन सतुष्ट नहीं हुआ और निरंतर कुछ नया लिखने मन बनता रहता है। अजीब सी बेचैनी जो न जाने क्या करवाएगी और कितना कुछ कर गुजर जाने की तमन्ना लिए निकले हैं इन सफरों, जहां उम्मीद और विश्वास दोनों कायम हैं जो अर्जुन के भांति लक्ष्य को भेद देंगे । मुझे अभी अपने जीवन में बहुत कुछ करना है किसी के सपनों को पूरा करना हैं । अब तो बस मेरा एक ही लक्ष्य हैं कि मैं बस उसके सपने पूरें करू।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here