BHARAT BAND: भारत बंद का दिखा देश भर में असर

0

पेट्रोल डीजल की लगातार बढ़ती कीमते ,सरकार द्वारा लाया गया गुड्स एंड सर्विसेज टैक्स ,और ई बिल को लेकर व्यापरिक संघठन द कन्फेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स की ओर से भारत बंद का एलान किया किया है। देशभर के करीब 8 करोड़ व्यपारियो का प्रतिनिधित्व करने वाले करीब 40 हजार  ट्रेड एसोसिएशंस ने कन्फेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स द्वारा किये गए इस बंद का समर्थन करने की घोषणा की है। इस बंद को करने के पीछे का मुख्य कारण केंद्र सरकार द्वारा लाया जीएसटी के प्रावधानों में समीक्षा की मांग को लेकर किया जा रहा है।

भारत बंद का असर देश भर में दिखा ,उड़ीसा में हालाँकि छिट पुट वाहन सड़को पर दौड़ते नजर आये। इसके अलावा बंद का असर बंगाल में भी देखा गया। जम्मू कश्मीर में तो पेट्रोल डीजल की बढ़ती कीमतों का विरोध करने के लिए शिवसेना के कार्यकर्ताओ ने एक स्कूटी में ही आग लगा दी।

जटिल और पीछे ले जाना वाले है गुड्स एन्ड टैक्स  के नियम

कैट के व्यापारियों ने भारत बंद के बारे में बात करते हुए कहा की GST के नए नियम बहुत ही जटिल, कठिन और पीछे लेकर जाने वाले है। इसी बिल के विरोध करने के लिए इस बंद का एलान किया गया है।

संयुक्त किसान मोर्चा ने भी दिया भारत बंद को समर्थन

दिल्ली बॉर्डर पर तीन कृषि कानूनों का विरोध कर रहे किसानो ने भी ट्रेड यूनियनों द्वारा घोषित किये गए भारत बंद में शांति पूर्वक रूप से हिस्सा लेने की अपील करी। मोर्चा ने एक बयान जारी कर के कहा की वे भी इस बंद का समर्थन करते है। बयान में मोर्चा ने कहा की , “हम भारत के सभी किसानो से ये अपील करते है की वे सभी भारत बंद प्रदर्शनकारियो का शान्ति पूर्ण समर्थन कर उसको सफल बनाने में सहयोग करे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here