स्वतंत्रता दिवस – सेहत और सम्मान के लिए इस बार नहीं करे प्लास्टिक के तिरंगे का इस्तेमाल

0
313

जयपुर, करीब  दो सौ सालों तक अंग्रेजों का गुलाम रहने के बाद हमारा देश आखिरकार 15 अगस्त 1947 को आजाद हुआ था। इस आजादी को पाने के लिए हमारे देश के कई योद्धाओं को अपने प्राणों की बाजी लगाई थी। इसलिए हमारा फर्ज बनता है कि हमे ऐसा कोई काम नहीं करे। जिससे उन योद्धाओं की आत्मा को ठेस पहुंचे। अपनी स्वतंत्रता का कभी भी दुरूपयोग नहीं करे और ना ही किसी को करने दे। दोस्तो इस बार हम 72 वां स्वतंत्रता दिवस मनाने जा रहे है।Image result for स्वतंत्रता दिवस

हमारा पूरा देश इसकी तैयारी मे लगा हुआ है, लेकिन इसी बीच हम ऐसी गलती कर देते है। जो हमारे देश के सम्मान के खिलाफ है। दोस्तो जब भी स्वतंत्रता दिवस हो या फिर गणतंत्र दिवस बहुत से लोग देश प्रेम के चलते राष्ट्रीय ध्वज खरीद कर गाड़ी पर या फिर अपने घरों पर लगा लेते है। बच्चे भी तिरंगे को हाथ मे लेकर आजादी का जश्न मनाते है। यह बहुत अच्छी बात है। लेकिन भाइयों अगले दिन हमारी सारी देश भक्ति की भावना गायब हो जाती है। और हमारा राष्ट्रीयध्वज सड़को पर पड़ा हुआ दिखाई देता है।Image result for स्वतंत्रता दिवस

इससे राष्ट्रध्वज का नहीं बल्कि पूरे देश का अपमान होता है। उन योद्धाओं का अपमान होता है। जिन्होंने अपनी आजादी के लिए हंसते हंसते प्राण त्याग दिए थे। और वह भी महज 21 -22 साल की उम्र में। दोस्तों हमारे पडौसी देश से प्लास्टिक के झंडे आ रहे है। हालांकि अपने देश के सम्मान को ध्यान में रखते हुए भारत सरकार ने 9 जनवरी 2018 को प्लास्टिक के झंडे पर बेन लगा दिया था। और राज्य सरकारों को सख्त हिदायत दी गई थी कि राष्ट्रीय ध्वज के अपमान का विशेष ध्यान रखे।Image result for स्वतंत्रता दिवस

इसके लिए दोषी पाए जाने पर तीन साल की सजा का प्रावधान भी किया गया था। इसी के साथ सरकार ने अपने 9 जनवरी 2018 के आदेश मे कहा था कि किसी भी कार्यक्रम के दौरान केवल कागज के झंडों का इस्तेमाल करे। जिन्हें कार्यक्रम समाप्त होनें के बाद पूरे सम्मान के साथ डिस्पोज किया जाएगा। कहीं पर भी हमारा राष्ट्रीय ध्वज जमीन पर पड़ा हुआ दिखाई नहीं देना चाहिए। साथ ही सरकार ने मीडिया के माध्यम से प्लास्टिक का झंडा इस्तेमाल नहीं करने की अपील भी की थी।Image result for स्वतंत्रता दिवस

दोस्तो हमारे सम्मान का मजाक उड़ाने के लिए प्रतिद्वंदी देश प्लास्टिक के झंडे हमारे देश में सप्लाई कर रहैं है। वह चाहते है कि कैसे भी करके हमारे देश का अपमान हो लेकिन हम ऐसा नहीं होनें देंगे। क्योंकि हम अपने देश से प्यार करते है। देश की संप्रभुता को बनाए रखना हमारा राज धर्म है जो सभी धर्मों से बढकर है। इसलिए मेरे दोस्तों प्लास्टिक झंडे का इस्तेमाल नहीं करे। जय हिंद, जय भारत

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here