ऐसा खास कमाल करने वाले दुनिया के एक मात्र बल्लेबाज बने एलिस्टर कुक

भारत और इंग्लैंड के बीच पांच टेस्ट मैचों की सीरीज का आखिरी मैच जारी है ।मैच का चौथे दिन एलिस्टर कुक बल्ला जमकर चला है इसी के साथ उन्होंने एक अहम रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया है । गौरतलब है कि पहली पारी में कुक ने 71 रनों का योगदान दिया था।

0
127

जयपुर( स्पोर्ट्स डेस्क)। भारत और इंग्लैंड के बीच पांच टेस्ट मैचों की सीरीज का आखिरी मैच जारी है ।मैच का चौथे दिन एलिस्टर कुक बल्ला जमकर चला है इसी के साथ उन्होंने एक अहम रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया है । गौरतलब है कि पहली पारी में कुक ने 71 रनों का योगदान दिया था।

वह दूसरी पारी में अर्धशतक पूरा करते ही कुक दुनिया के ऐसे बल्लेबाज बन गए जो सिर्फ एक ही बल्लेबाज कर सका है । वैसे ख़बर लिखेजाने तक कुक ने अपना शतक भी पूरा कर लिया था वह उनका 33 वां टेस्ट क्रिकेट का शतक था । पाचवें टेस्ट मैच से पहले ही एलिस्टर कुक ने क्रिकेट से संन्यास लेने की घोषणा कर दी और ये एलिस्टर कुक का अंतिम टेस्ट मैच है।

कुक ने अपने आखिरी टेस्ट मैच की दोनों पारियों में अर्धशतक लगाए। एलिस्टर कुक ने 2006 में भारत के खिलाफ अपना पहला टेस्ट मैच खेला था, जिसमें एलिस्टर कुक ने 60 और नाबाद 104 रनों की पारी खेली थी। यानी कि अपने डेब्यू टेस्ट मैच में एलिस्टर कुक ने दोनों पारियों में शतक लगाए थे।

इस आधार पर कुक ने अपने करियर की अंतिम टेस्ट मैच के दोनों पारियों में अर्धशतक लगाए। ऐसे करके कुक दुनिया के दूसरे बल्लेबाज बन गए।जिसने अपने पहले और अंतिम टेस्ट मैच की दोनों पारियों में अर्धशतक लगाया हो। इससे पहले ये कारनामा ब्रूस मिचेल ने किया था।

इसके अलावा कुके ने भारत के खिलाफ सबसे ज्यादा टेस्ट मैच खेलकर रिकॉर्ड बनाया। एलिस्टर कुक ने भारत के खिलाफ अपना 30वां टेस्ट मैच खेला। इस मैच में कुक के अहम शतक के दम पर इंग्लैंड मजबूत बढ़त की ओर है ।

 

 एलिस्टर कुक के संन्यास लेने पर  उनके लिए दो भावुक शब्द कमेंट बॉक्स में लिखिए अगर आप भी क्रिकेट के बड़े वाले फैंन हैं ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here