किसान पंचायत में Akhilesh Yadav बोले, ‘अंधेर नगरी देखना है तो यूपी आजा’

0

समाजवादी पार्टी (सपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि यूपी में दिनदहाड़े रेप की वारदात सामने आ रही हैं। उन्होंने कहा कि, “अंधेर नगरी चौपट राजा, रात को गांजा, देखना है तो यूपी में आजा।” कृषि कानून के विरोध में किसानों के समर्थन में पहली बार महापंचायत में पहुंचे समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव अलीगढ़ के टप्पल में पूरी लय में थे। उन्होंने किसानों के कानून के मामले में केंद्र के साथ उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार को घेरा। इस दौरान उन्होंने प्रदेश की कानून-व्यवस्था पर सवाल उठाया। इस दौरान उन्होंने एक कहावत को बदले तर्ज में बोला। उन्होंने कहा कि बहुत पुरानी कहावत है, “अंधेर नगरी चौपट राजा, लेकिन उत्तर प्रदेश में इसको बदला जा रहा है। उत्तर प्रदेश में हो रहा है कि अंधेर नगरी चौपट राजा, दिनदहाड़े दुष्कर्म और रात भर गांजा। यह जिसको भी देखना है तो यूपी में आजा।”

उन्होंने कहा कि बताओ तो उत्तर प्रदेश में कानून-व्यवस्था की क्या हालत कर दी।

किसान महापंचायत में अखिलेश यादव ने कहा कि, “आप सभी ने देश के किसानों को जगाया है। इस लड़ाई में हम आपके साथ हैं। हमको जब भी मौका मिलेगा कानून हटा देंगे। राकेश टिकैत तो बहादुर बाप के बहादुर बेटे हैं। टप्पल किसान आंदोलन की ऐतिहासिक भूमि है। आज की इस महापंचायत से बड़ा संदेश जाएगा।”

अखिलेश यादव ने कहा कि, “हमारे कार्यकाल में हमने यूपी में जहाज उतारने वाली सड़क बनाई। भाजपा ने नोटबंदी व जीएसटी जैसे सारे गलत फैसले लिये। हमने तो 22 महीने में आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे बनाया था। योगी आदित्यनाथ सरकार तो ड्यूटी करने वालों के भी पैसे काट रही है। पुलिस वालों ने ड्यूटी भी की और पैसे भी कट गए। लॉकडाउन में पुलिस वालों के पैसे कटे, इसका जिम्मेदार कौन है।”

भाजपा सरकार के काम पर अखिलेश ने कहा कि ईस्ट इंडिया कंपनी ने भारत को गुलाम बनाया था, भाजपा की सभी सरकार भी इसी कंपनी की तर्ज पर काम कर रही हैं। यही कंपनी आगे सरकार बन गई थी। यह सरकार बेचकर कंपनियों को दे रही है। भाजपा वाले सरकार को कंपनी बना रहे हैं।

अखिलेश यादव ने कहा कि यह सरकार किसान के हित में कोई भी काम नहीं कर रही है। भाजपा की कोई भी सरकार किसानों की मदद नहीं कर रही है। किसानों पर थोपे गए कानून हटाए जा सकते हैं। अगर उनको किसी दबाव में रखेंगे तो हम विश्वगुरू कैसे बनेंगे। सरकार को किसान की मदद के बारे में सोचना ही होगा। अगर भाजपा की सरकार नहीं चेती तो किसान इनका घमंड तोड़ देंगे।

न्यूज सत्रोत आईएएनएस

SHARE
Previous articleIND vs ENG:टेस्ट सीरीज में 32 विकेट चटकाकर Ashwin ने अनोखा रिकॉर्ड किया अपने नाम
Next articleImran Khan Govt Updates: बच गई पाकिस्तान सरकार, इमरान खान ने हासिल किया विश्वास मत
बहुत ही मुश्किल है अपने बारे में लिखना । इसलिए ज्यादा कुछ नहीं, मैं बहुत ही सरल व्यतित्व का व्यक्ति हूं । खुशमिजाज हूं ए इसलिए चेहरे पर हमेशा खुशी रहती हैए और मुझे अकेला रहना ज्यादा पंसद है। मेरा स्वभाव है कि मेरी बजह से किसी का कोई नुकसान नहीं होना चाहिए और ना ही किसी का दिल दुखना चाहिए। चाहे वो व्यक्ति अच्छा हो या बुरा। मेरे इस स्वभाव के कारण कभी कभी मुझे खामियाजा भी भुगतान पड़ता है। मैं अक्सर उनके बारे में सोचकर भुला देता हूं क्योंकि खुश रहने का हुनर सिर्फ मेरे पास है। मेरी अपनी विचारए विचारधारा है जिसे में अभिव्यक्त करता रहता हूं । जिन लोगों के विचारों से कभी प्रभावित भी होता हूं तो उन्हें फोलो कर लेता हूं । अभी सफर की शुरुआत है मैने कंप्यूटर ऑफ माटर्स की डिग्री हासिल की है और इस मीडीया क्षेत्र में अभी नया हूं। मगर मुझे अब इस क्षेत्र में काम करना अच्छा लग रहा है। और फिर इसी में काम करने का मन बना लेना दूसरों के लिये अश्चर्य पूर्ण होगा। लेकिन इससे पहले और आज भी ब्लागर ने एक मंच दिया चिठ्ठा के रुप में, जहां बिना रोक टोक के आसानी से सबकुछ लिखा या बताया जा सका। कभी कभी मन में उठ रही बातों या भावों को शब्दों में पिरोयाए उनमें खुद की और दूसरों की कहानी कही। कभी उनके द्वारा किसी को पुकाराए तो कभी खुद ही रूठ गया। कई बार लिखने पर भी मन सतुष्ट नहीं हुआ और निरंतर कुछ नया लिखने मन बनता रहता है। अजीब सी बेचैनी जो न जाने क्या करवाएगी और कितना कुछ कर गुजर जाने की तमन्ना लिए निकले हैं इन सफरों, जहां उम्मीद और विश्वास दोनों कायम हैं जो अर्जुन के भांति लक्ष्य को भेद देंगे । मुझे अभी अपने जीवन में बहुत कुछ करना है किसी के सपनों को पूरा करना हैं । अब तो बस मेरा एक ही लक्ष्य हैं कि मैं बस उसके सपने पूरें करू।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here