अपने ही साथियों की पिटाई से कक्षा पांच में पढ़ने वाले दस वर्षीय छात्र की मौत

0
160
murder student

कभी—कभी बच्चे ऐसा दुस्साहस कर बैठते हैं जिसके बारे में उन्हें खुद भी पता नहीं होता है। आप को बता दें कि राजधानी दिल्ली के राहिणी स्थित एक ​स्कूल में पढ़ने वा​ले दस साल के छात्र की पिटाई उसके अपने ही सहपाठियों ने कर दी। बाद में अस्पताल में भर्ती कराए गए इस कक्षा पांच में पढ़ने वाले इस छात्र की मौत हो गई।

आप को जानकारी के लिए बतादें कि दस साल का विशाल दिल्ली के राहिणी सेक्टर—20 में एक प्राथमिक विद्यालय में पढ़ता था। बताया जा रहा है कि शुक्रवार को उसके ही सहपाठियों से झगड़ा हो गया जिसमें इन सहपाठियों ने विशाल के साथ मारपीट की।

हर रोज की ​तरह शुक्रवार को भी रात में विशाल खाना खाकर सो गया। लेकिन अगले दिन जब विशाल को जगाया गया तो वो बेहोशी की हालत में मिला। इसी अवस्था में विशाल के परिजन उसे अस्पताल ले गए।

student vishal

करीब सुबह नौ बजे रोहिणी के अंबडेकर अस्पताल में भर्ती विशाल के सीने में तेज दर्द हुआ जहां देर रात ​तबियत बिगड़ने पर उसे सफदरजंग अस्पताल ले जाने को कहा गया लेकिन अस्पताल पहुंचने से पहले ही विशाल ने रास्ते में ही दम तोड़ दिया।

विशाल के परिजनों ने आरोप लगाया है कि अंबेडकर अस्पताल के डॉक्टरों ने विशाल का सही हसे इलाज नहीं किया। जबकि अंबेडकर अस्पताल प्रशासन का कहना है कि हास्पीटल में आक्सीजन मशीन नहीं है। सीने में चोट के चलते इंटरनल ब्लीडिंग बढ़ने से विशाल की हालत बिगड़ती ही चली गई।

प्रश्न तो यह उठता है कि आखिर कक्षा पांच में पढ़ने वाले बच्चे क्लासरूम में मारपीट करते रहे और किसी भी टीचर या गार्ड ने इन्हें नहीं रोका। ऐसी स्थिति में कक्षा पांच के बच्चे इतने बर्बर हो जाए कि किसी छात्र की जान लें लें ये एक विचारणीय प्रश्न है।

लेटेस्ट जानकारी पाएं  हमारे FB पेज पे.

अभी LIKE करें – समाचार नामा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here