उत्तरी कोरिया में स्थानीय चुनाव के मैदान में एक ही उम्मीदवार,100 प्रतिशत हुआ मतदान

0
39

जयपुर।उत्तर कोरिया में चुनाव की बात सुनकर हर कोई हैरान हो जाता है। अपाको बता दे कि उत्तर कोरिया में चुनाव बस एक राजनीतिक रिवाज भर है,जिसमें उम्मीदवारों को किसी तरह की प्रतिस्पर्धा का सामना नही करना पड़ता है। इन चुनावों के जरिए किम शासन के प्रति वफादार उम्मीदवार बहुमत हासिल करने का दावा पेश करते है।

उत्तर कोरिया में स्थानीय चुनावों में रविवार को करीब 100 फीसदी के करीब मतदान दर्ज हुआ है।उत्तर कोरियाई नेता किम जोंग उन ने भी इस मतदान में अपने मत का प्रयोग किया है। इस साल उत्तर कोरिया में 99.98 फीसदी मतदान दर्ज किया गया है जो 2015 के मुकाबले 0.01 फीसदी ज्यादा है।

उत्तर कोरिया की सरकारी एजेंसी केसीएन ने बताया कि,जो लोग विदेशी यात्रा पर है या दूसरे देशों में काम कर रहे है,केवल वे नागरिक ही वोट नही कर सके है।यहां पर बुजुर्गो और बीमारो ने मोबाइल बैलेट बॉक्स के जरिए मतदान किया है।

उत्तर कोरिया में हर 4 साल में स्थनीय चुनाव आयोजित होते है जिसमें प्रांत,शहर और विधानसभाओं के लिए प्रतिनिधि चुने जाते है। ‘एक राजनीतिक पार्टी’ व्यवस्था वाले उत्तर कोरिया में 99 फीसदी मतदाताओं ने बोट किया और 99 फीसदी ने निर्विरोध खड़े उम्मीदवारों के पक्ष में मतदान किया है।

उत्तर कोरियाई प्रशासन मतदान में लोगों के बढ़-चढ़कर हिस्सा लेने को’कोरियाई जनकेंद्रित समाजवा’को महान बनाने वाली ‘एकमत और एकता’ की मिसाल बताता है।उत्तर कोरियाई एजेंसी केसीएनए के मुताबिक,किम जोंग ने उम्मीदवारो को अपने कर्तव्यों को पूरा करने और जनता का वफादार सेवक बनने के लिए प्रेरित किया है। किम ने खुद 2014 में सुप्रीम पीपल्स एसेंबली के लिए चुनाव लड़ा था और उनके पक्ष में 100 फीसदी मत पड़े थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here