केरल में तेल की बढ़ी कीमतों के विरोध में बंद

0
327

तेल की बढ़ी कीमतों के विरोध में केरल में सत्तारूढ़ माकपा और कांग्रेस की अगुवाई में विपक्षी दलों द्वारा सोमवार को आहूत किए गए बंद का असर साफ देखने को मिल रहा है। जहां सार्वजनकि वाहन सड़कों से नदारद है, वहीं कई जगहों पर निजी वाहन चल रहे हैं, जबकि दुकानें, बाजार और व्यावसायिक प्रतिष्ठान बंद हैं।

विपक्ष के नेता रमेश चेन्निथला ने कोच्चि में अपने पार्टी के विरोध प्रदर्शन को शुरू करते हुए कहा, “यह विरोध प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की गलत नीतियों के खिलाफ है, जिसके चलते रुपया भी रिकॉर्ड निचले स्तर पर पहुंच गया है। मोदी के नेतृत्व में देश का पतन हुआ है।”

कोल्लम में उत्तेजित कांग्रेस कार्यकताओं ने हेड पोस्ट ऑफिस के बाहर प्रदर्शन किया और इसे बंद करने की मांग की।

राज्य की राजधानी में टेक्नोपार्क स्थित आईटी कैम्पस और इसरो यूनिट सामान्य रूप से संचालित हो रहे हैं।

कासरगोड में बंद का पूरा असर है, जिसकी सीमा कर्नाटक के साथ लगी है और अंतरराज्यीय बसें सड़कों से नदारद है।

जहां एक ओर कांग्रेस कार्यकर्ता विरोध के लिए सड़कों पर हैं, वहीं सत्तारूढ़ पार्टी के समर्थकों का बंद को लेकर रुख है और जोर देते हुए कहा कि बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में बचाव अभियान अप्रभावित हो जाएंगे।

न्यूज स्त्रोत आईएएनएस

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here