आव्रजन नीति – अमेरिका ने कहा बच्चों को मां बाप से मिलाने के लिए किया जाएगा डीएनए टेस्ट

0
112

जयपुर, अमेरिका राष्ट्रपति ट्रंप की आव्रजन नीति के तहत अलग किए गए करीब तीन हजार बच्चों का डीएनए टेस्ट किया जाएगा। उसके बाद उन्हें अपने मां बाप से मिलाया जाएगा।अमेरिकी स्वास्थ्य मंत्री एलेक्स अजार ने कोर्ट की शर्त का हवाला देते हुए कहा कि कोर्ट की तय समय सीमा में बच्चों को उनके परिवार से मिलाने के लिए यह कदम उठाए जा रहै है।Image result for जीरोटोलरेंस अमेरिका

आपकों बता दें कि अमेरिकी कोर्ट ने बच्चों को अपने मां बाप से मिलाने के लिए 4 साल से कम उम्र के बच्चों के लिए 10 जुलाई व 5 से 17 साल के बच्चों के लिए 26 जुलाई तक का समय दिया है। इसे लेकर अमेरिका के सामाजिक कार्यकर्ताओं ने संदेह जताया है कि अमेरिकी सरकार डीएनए का कुछ अन्य इस्तेमाल कर सकती है।Image result for अमेरिकी प्रवासन नीति

इसे लेकर ट्रंप सरकार के आलोचकों का कहना है कि डीएनए टेस्ट के लिए बच्चों की  उम्र कम है। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार हिरासत में रखे गए बच्चों में 5 साल से कम उम्र के 100 बच्चे शामिल है।

बच्चों की पहचान के लिए जरूरी है डीएनएImage result for डीएनए टेस्ट

अमेरिका के अनुसार शिवर चलाने वाली एजेंसी का जो तरीका है वह काफी धीमी गति का है जिसमें कोर्ट का के दिए समय से ज्याद समय लग सकता है। ऐसे में कुछ एसा करना होगा जिससे तय समय में काम हो जाए। उन्होंने बताया कि कुल 11800 बच्चे हैं। जिनमें से कुछ बच्चे सीमा पर ही अपने परिवारों से अलग हो गए थे। जबकि कुछ अमेरिका आने के बाद अपने परिजनों से अलग हुए। अब ऐसे हालात में बच्चों की पहचान करने में मुश्किल हो रही है इसलिए डीएनए किया जाना जरूरी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here