आईआईटी-खड़गपुर ने की खुदकुशी, कमरे में मिली लाश

0
216

जयपुर। आईआईटी-खड़गपुर के एक छात्र, जो आंध्र प्रदेश से आया था, उसने  बुधवार की रात को अपने कमरे के अंदर फांसी लगा ली जिससे उनकी मौत हो गई और अभी तक कोई भी सुसाइड नोट नहीं मिला है.  एम टेक (इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग) के दूसरे वर्ष के छात्र गंगरेड्डी हनीमी रेड्डी (24) के शरीर को संस्थान के परिसर में मदन मोहन मालवी हॉल में अपने कमरे में फांसी पर लटका हुआ मिला.

पूर्वी मिदनापुर जिला पुलिस अधीक्षक आलोक रोजोरिया ने कहा “हमें कोई आत्महत्या नोट नहीं मिला है.  हम उसके  लैपटॉप और मोबाइल फोन को खोलने और उसकी जांच करने की कोशिश कर रहे हैं, जिसके बाद कोई कदम लिया जाएगा. आत्महत्या पर प्राथमिक जांच बिंदु हालांकि पोस्ट-मॉर्टम करने के बाद ही इसकी पुष्टि की जा सकती है”

प्रमुख संस्थान के शिक्षकों और छात्रों ने कहा कि बुधवार की शाम से उन्हें कोई भी नहीं देखा और प्रशासन के साथ मामला दर्ज किया गया आईआईटी-केजीपी के उप निदेशक एस के भट्टाचार्य ने कहा, “घटना दुर्भाग्यपूर्ण है. उनके परिवार को सूचित किया गया है. हम भी यह पता लगाने की कोशिश कर रहे हैं कि इस आत्महत्या के कारण क्या हुआ”

इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग विभाग के एक छात्र ने कहा की वो पढने में अच्छा था और उसे कभी ऐसा नहीं लगा की वो अवसाद का शिकार था.

आपको बता दे की इससे पहले पिछले साल आईआईटी खड़गपुर के तीन छात्रों की मौत की सूचना आई थी. जनवरी 2017 में  राजस्थान से लोकेश मीना ने खुद को एक चलती ट्रेन के सामने आ गया था, जबकि मार्च में आंध्र प्रदेश के एक इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग छात्र साना श्रीराज के शरीर रेलवे पटरियों के साथ पाया गया था. उस वर्ष अप्रैल में  केरल के एयरोस्पेस इंजीनियरिंग का अध्ययन करने वाले छात्र निधििन एन ने छात्रावास के कमरे में खुद की जान ले ली थी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here