Madhya Pradesh को आत्मनिर्भर बनाएगा आईआईएम इंदौैर

0

मध्य प्रदेश को आत्मनिर्भर बनाने में इंदौर का भारतीय प्रबंधन संस्थान (आईआईएम) बड़ी भूमिका निभाने वाला है। इसके लिए आईआईएम और मध्य प्रदेश औद्योगिक विकास निगम के बीच करार हुआ है। आईआईएम के इंदौर स्थित परिसर में आयोजित समारोह में एमओयू पर आईआईएम के निदेशक प्रो. हिमांशु राय और उद्योग नीति और निवेश प्रोत्साहन विभाग के प्रमुख सचिव व एमपीआईडीसी के अध्यक्ष संजय कुमार शुक्ला ने करार पर हस्ताक्षर किए।

इस मौके पर प्रो. राय ने कहा कि, “आत्मानिभर भारत की भावना को जगाने के लिए महत्वपूर्ण है कि मध्य प्रदेश को उद्योगों और व्यवसायों का समर्थन और पोषण करने वाले एक पारिस्थितिकी तंत्र के रूप में विकसित किया जाए। इसके लिए एसएमई और स्थानीय व्यवसायों को बढ़ावा दिया जाना चाहिए। इस सहयोग से उद्योगों को समर्थन और सहायता प्रदान करने वाले ढांचे को मजबूत किया जाएगा, जिससे व्यवसाय में आसानी होगी और इससे मध्य प्रदेश की प्रगति और समृद्धि की अपार संभावनाएं बनेंगी।”

एमपीआईडीसी के अध्यक्ष शुक्ला ने कहा कि, “एमपीआईडीसी राज्य में उद्योगों के सशक्तिकरण के प्रयासों के लिए प्रतिबद्ध है। यह निरंतर नीतिगत सुधारों और हस्तक्षेपों के माध्यम से व्यवसायों का समर्थन करता है, ताकि मुख्यमंत्री के आत्मनिर्भर मध्य प्रदेश के लक्ष्य की प्राप्ति हो सके। प्रभावी प्रयासों पर संयुक्त रूप से काम करने के लिए आईआईएम इंदौर के साथ सहयोग, इस दिशा में एक प्रगतिशील कदम है। हम विश्वास करते हैं कि साझेदारी प्रभावी रूप से वर्तमान नीति ढांचे और अन्य रणनीतिक आदानों के संवर्धन के लिए प्रेरित करेगी।”

यह समझौता मध्य प्रदेश सरकार के वर्तमान औद्योगिक नीति ढांचे पर नीतिगत शोध करना है, जिससे मौजूदा औद्योगिक परियोजनाओं का आकलन किया जा सकेगा। इसमें ब्रांड मध्य प्रदेश के पुर्नमूल्यांकन और स्थिति के लिए रणनीतिक प्रचार अभियान डिजाइन करने पर भी ध्यान केंद्रित किया गया है, जिससे आत्मनिर्भर एवं समृद्ध मध्य प्रदेश के रूप में इसे स्थापित किया जा सके।

आईआईएम इंदौर राज्य में व्यापार करने में आसानी और सुविधा के मापदंडों के मूल्यांकन के लिए अध्ययन भी करेगा और विभिन्न योजनाओं का विश्लेषण और तृतीय-पक्ष सत्यापन करेगा। इस सहयोग का उद्देश्य मध्य प्रदेश सरकार द्वारा आयोजित वैश्विक और राष्ट्रीय शिखर सम्मेलन के लिए सभी आवश्यक सलाहकार सहायता और प्रबंधन परामर्श सुनिश्चित करना है और सोशल मीडिया विश्लेषण की मदद से मध्य प्रदेश सरकार के उद्योग विभिन्न वेब-पोर्टलों पर उपयोगकर्ता के लिए कितने प्रभावी हैं, यह जांचना है।

यह करार तीन साल के लिए है, इसके तहत आईआईएम इंदौर एमपीआईडीसी के वरिष्ठ अधिकारियों और कर्मियों के लिए प्रशिक्षण सत्र आयोजित करने की योजना बना रहा है। इसके साथ ही दोनों संस्थान मिल कर सहयोग के नए क्षेत्रों को परिभाषित करने के लिए तत्पर हैं, यह कोशिश दोनों पक्षों के लिए फायदेमंद साबित होंगी।

News source आईएएनएस

SHARE
Previous articleAB de Villiers ने आईपीएल में रचा इतिहास, ऐसा करने वाले पहले विदेशी खिलाड़ी
Next articleTamilnadu : मुथूट फाइनेंस स्टोर में बंदूक के नोक पर बदमाशों ने लूटा 25 किलो सोना
बहुत ही मुश्किल है अपने बारे में लिखना । इसलिए ज्यादा कुछ नहीं, मैं बहुत ही सरल व्यतित्व का व्यक्ति हूं । खुशमिजाज हूं ए इसलिए चेहरे पर हमेशा खुशी रहती हैए और मुझे अकेला रहना ज्यादा पंसद है। मेरा स्वभाव है कि मेरी बजह से किसी का कोई नुकसान नहीं होना चाहिए और ना ही किसी का दिल दुखना चाहिए। चाहे वो व्यक्ति अच्छा हो या बुरा। मेरे इस स्वभाव के कारण कभी कभी मुझे खामियाजा भी भुगतान पड़ता है। मैं अक्सर उनके बारे में सोचकर भुला देता हूं क्योंकि खुश रहने का हुनर सिर्फ मेरे पास है। मेरी अपनी विचारए विचारधारा है जिसे में अभिव्यक्त करता रहता हूं । जिन लोगों के विचारों से कभी प्रभावित भी होता हूं तो उन्हें फोलो कर लेता हूं । अभी सफर की शुरुआत है मैने कंप्यूटर ऑफ माटर्स की डिग्री हासिल की है और इस मीडीया क्षेत्र में अभी नया हूं। मगर मुझे अब इस क्षेत्र में काम करना अच्छा लग रहा है। और फिर इसी में काम करने का मन बना लेना दूसरों के लिये अश्चर्य पूर्ण होगा। लेकिन इससे पहले और आज भी ब्लागर ने एक मंच दिया चिठ्ठा के रुप में, जहां बिना रोक टोक के आसानी से सबकुछ लिखा या बताया जा सका। कभी कभी मन में उठ रही बातों या भावों को शब्दों में पिरोयाए उनमें खुद की और दूसरों की कहानी कही। कभी उनके द्वारा किसी को पुकाराए तो कभी खुद ही रूठ गया। कई बार लिखने पर भी मन सतुष्ट नहीं हुआ और निरंतर कुछ नया लिखने मन बनता रहता है। अजीब सी बेचैनी जो न जाने क्या करवाएगी और कितना कुछ कर गुजर जाने की तमन्ना लिए निकले हैं इन सफरों, जहां उम्मीद और विश्वास दोनों कायम हैं जो अर्जुन के भांति लक्ष्य को भेद देंगे । मुझे अभी अपने जीवन में बहुत कुछ करना है किसी के सपनों को पूरा करना हैं । अब तो बस मेरा एक ही लक्ष्य हैं कि मैं बस उसके सपने पूरें करू।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here