अगर आप भी नहीं लेते हो पर्याप्त नींद तो हो जायें सावधान

0
42

जयपुर। आपको बता दें कि आजकल पर्याप्त मात्रा में नींद नहीं लेना एक बड़ी समस्या बन गई है। नींद की कमी शरीर में कई बीमारियों को आमंत्रित करती है। एक शोध में पाया गया है कि जो लोग पांच घंटे या उससे कम समय तक सोते हैं, उनको दिल का दौरा या स्ट्रोक युगल का खतरा। पिछले अध्ययन में कोई स्पष्ट सबूत नहीं था कि क्या भविष्य में सोने की बीमारी से संबंधित है। इस बार, इस जोखिम का अध्ययन 50 साल की उम्र के पुरुषों पर किया गया है।

शोध के मुताबिक कहा गया कि नींद हमें अपने हार्ट को स्वस्थ रखने में मदद करती है। इस अध्ययन में पाया गया कि जो लोग रात में छह से सात घंटे से ज्यादा सोते हैं, उन्हे दूसरों की तुलना में कम दिल की बीमारी होती है। इससे कम घंटे से कम नींद वाले लोगों को हृदय रोग का उच्च जोखिम होता है।

चाहे किसी व्यक्ति की नींद की समस्या हो या नहीं, इसके लिए डॉक्टर से विचार करने की आवश्यकता है। जो बहुत ज्यादा सोते हैं उन्हें यह नहीं पता कि वे किसी भी नींद से संबंधित समस्या से जूझ रहे हैं।

बिस्तर पर जाने के बाद सोना मतलब यह नहीं है कि आप सामान्य हैं। आमतौर पर छह घंटे तक सोते हुए वयस्क के लिए पर्याप्त होता है। जो मानसिक रूप से अधिक काम करते हैं, उन्हें सात से आठ घंटे सोने की जरूरत होती है, और जो लोग कम थके हुए हैं, वे पांच घंटे तक सोने की संभावना रखते हैं। किशोरों और बच्चों के लिए आठ घंटे नींद जरूरी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here