अगर मायावती की ये शर्त मान लेगी कांग्रेस तो हो जायेगा महागठबंधन

0
119

जयपुर। अगले साल होने वाले लोकसभा के चुनाव में 6 महीने से भी कम का समय बचा है, लेकिन अभी तक महागठबंधन को लेकर कोई भी बात साफ़ नहीं हो रही है. सभी दल इसके समर्थन में बाते करते हुए नजर आ रहे है लेकिन इस बात को लेकर अभी तक कोई भी ठोस कदम सामने नहीं है.

आपको बता दे की पिछले एक साल में हुए तीन उपचुनाव में विपक्ष ने गठबंधन कर, चुनाव में बीजेपी को हराया है, जिसके बाद से ही गठबंधन की बात तेज है. अब खबर आ रही है की गठबंधन न होने का कारन है की सभी दल एक साथ नहीं आ पा रहे है.

खबर आ रही है की गठबंधन को लेकर मायावती का कहना है की लोकसभा के चुनाव से पहले होने वाले चार राज्यों के विधानसभा के चुनाव में भी ये गठबंधन रहे. मायावती की मांग है की राजस्थान, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ के चुनाव के लिए कांगेस उनके साथ गठबंधन करे, लेकिन कांग्रेस का मानना है की वो राजस्थान और मध्य प्रदेश में बिना किसी गठबंधन के जीत सकती है. राजस्थान कांग्रेस के अध्यक्ष सचिन पायलट कह चुके है की राजस्थान में जातिगत समीकरणों को देखते हुए यहां गठबंधन करना ठीक नहीं होगा.

वहीं बताया जा रहा है की मायावती का कहना है की अगर कांग्रेस लोकसभा के चुनाव के लिए गठबंधन करना चाहती है तो उसे विधानसभा के चुनाव के लिए भी गठबंधन करना होगा, वरना कोई भी गठबंधन नहीं होगा.

अब लोकसभा के चुनाव से पहले कांग्रेस और सभी दल महागठबंधन कर पाते है या नहीं ये तो समय बताएगा लेकिन इस वक्त बीजेपी की पूरी कोशिश है की वो ये गठबंधन न होने दे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here