‘अगर कश्मीर के लोग खुश हैं तो वहां इमरजेंसी जैसे हालात क्यों हैं?’

0
47

जयपुर।   मजलिस इत्तेहादुल मुस्लिमीन के प्रमुख सुधीन ओवैसी ने जम्मू कश्मीर धारा 370 हटाने को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्र सरकार पर निशाना साधा है इसके साथ-साथ उन्होंने की धारा 370 कश्मीर घाटी में इमरजेंसी जैसे हालात हैं.

धारा 370 हटाने से कश्मीर के लोग अगर घोषणा के पार्टी ने इमरजेंसी जैसे हालात में लोगों को घर में बंद करके रखा गया इसके साथ ही किसी ने यह भी कहा कि अगर लोग खुश हैं तो उन्हें घरों से बाहर निकल कर खुशी मनाने की इजाजत दी जानी चाहिए.

मीडिया में आई खबर के अनुसार बताया जा रहा है कि यह बातें एंड माय उनके मुख्यालय में मिला कार्यक्रम के दौरान दिए गए संबोधन में यह बात कही है इस मौके पर वीसी ने धारा 370 के अधिकांश प्रावधान हटाए जाने को एक ऐतिहासिक भूल और असंवैधानिक बताया है.

इसके साथ ही उन्होंने कहा कि नरेंद्र मोदी के पास पंडित नेहरू और सरदार पटेल जैसे राजनीतिज्ञ नहीं है उन्होंने आगे कहा कि एक समय राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ ने भी धारा 370 और 35a को स्वीकार करते हुए उसका समर्थन किया है.

एम आई एम प्रमुख ने यह भी कहा कि मैं समझता हूं कि केंद्र की मौजूदा सरकार को कश्मीरियों से नहीं बल्कि कश्मीर की जमीन से प्यार है और इस सरकार को ताकत से मतलब है जबकि न्याय से उसका कोई लेना-देना नहीं है वहीं नरेंद्र मोदी यह सब कुछ सिर्फ सत्ता में बने रहने के लिए कर रहे हैं लेकिन मोनी याद दिलाना चाहता हूं, कोई व्यक्ति ने अनंत काल तक जीवित रह सकता है और ना ही शासन कर सकता है.

वही आपको बता दें कि इसके साथ ही हो गई सिने अभिनेता से नेता बने रजनीकांत द्वारा नरेंद्र मोदी और अमित शाह को कृष्णा अर्जुन जैसे बताया था जाने की पर भी प्रतिक्रिया देते हुए सवालिया लहजे में कहा कि अगर मोदी सा कृष्णार्जुन है तो फिर कौरव कौन है क्या सरकार देश में एक और महाभारत करवाना चाह रही है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here