भारत में कोवैक्सीन का ह्यूमन ट्रायल शुरू, वैज्ञानिकों ने 15 अगस्त तक लॉन्च करने का किया दावा

0

जयपुर।हमारे देश में कोरोना संक्रमण लगातार बढ़ता जा रहा है।हमारे देश में कोरोना संक्रमितों को आंकड़ा 7 लाख के पार पहुंच चुका है और प्रतिदिन हजारो मामले सामने आ रहें है।ऐसे में अब केवल कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण को रोकने के लिए सभी को इसकी वैक्सीन का इंतजार बना हुआ है।जिसको लेकर भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद और भारत बायोटेक ने मिलकर कोरोना की वैक्सीन बनाने की तैयार कर ली है

इसे भारत में 15 अगस्त तक लॉन्च किए जाने का दावा किया जा रहा है।भारत में बनी इस वैक्सीन का ह्यूमन ट्रायल देश के 12 संस्थानों में शुरू हो रहा है।वैज्ञानिकों ने इस वैक्सीन को ‘बीबीवी 152’ कोड देते हुए इसका नाम ‘कोवैक्सीन’ रखा है।

भारत में बनी यह वैक्सीन 15 अगस्त तक लॉन्च हो जाती है तो यह विश्व की पहली कोरोना वैक्सीन साबित होगी।देश में 12 चयनित संस्थानों में इस वैक्सीन के ट्रायल के लिए एनरोलमेंट करना शुरू कर दिया है और वैक्सीन के सैंपल की एक केंद्र पर गुणवत्ता और सुरक्षा की जांच की जा रही है।

भारत में बीते शुक्रवार से इस वैक्सीन का ह्युमन ट्रायल शुरू किया गया है और इसकी जांच अगले हफ्ते तक पूरा होने की उम्मीद जताई जा रही है।शोधकर्ताओं ने बताया है कि इस दवा के ट्रायल के लिए पहले कुछ स्वस्थ लोगों को चुना जाएगा और फिर उनके ब्लड सैंपल नई दिल्ली की लैब में भेजे जाएंगे।

जहां पर सैंपल की जांच करने के बाद उन लोगों को वैक्सीन की पहली डोज दी जाएगी।शोधकर्ताओं के द्वारा कोवैक्सीन का जानवरों पर किया गया प्री-क्लिनिकल ट्रायल सफल रहा है।जिसके बाद अब 22 से 50 साल की उम्र के बीच के 100 स्वस्थ लोगों पर इस वैक्सीन का ट्रायल किया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here