पटना यूनिवर्सिटी को केंद्रीय विवि का दर्जा दिलाने का ऐलान कर कैसे राहुल गांधी ने नीतीश की दुखती रग छेड़ी?

0
994

जयपुर। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने बिहार के पटना की अपनी जन जन अपनी जन आकांक्षा रैली में कई वादे किए और अपने इन वादों में उन्होंने किसानों की कर्जा माफी के साथ साथ हैं अपनी सरकार बनने के बाद न्यूनतम आय देने के वादों को फिर से दोहराया इसी के साथ-साथ उन्होंने बिहार के पटना में कैसी बात कही जिसके बाद से उन्होंने नीतीश की दुखती रग को छेड़ दिया है.

राहुल गांधी ने पटना में अपनी रैली के दौरान शिक्षा व्यवस्था की बदहाली पर चर्चा करते हुए कहा कि अगर केंद्र में कांग्रेस की सरकार बनी तो पटना विश्वविद्यालय को केंद्रीय विश्वविद्यालय का दर्जा दे दिया जाएगा यह एक ऐसी घोषणा है जिसका कोई विरोध नहीं कर सकता लेकिन यह घोषणा इसलिए महत्वपूर्ण हो जाती है क्योंकि पिछले डेढ़ वर्ष पुरानी पटना विश्वविद्यालय किस शताब्दी समारोह में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की उपस्थिति और बिहार के मुख्यमंत्री और अब एनडी के सहयोगी नीतीश कुमार ने कई बार पटना विश्वविद्यालय को केंद्रीय विश्वविद्यालय बनाने की मांग करी है लेकिन अभी तक केंद्र की मोदी सरकार ने इस मांग को खारिज करते रहे हैं.

वहीं आपको बता दे कि भारतीय जनता पार्टी पर कई विपक्षी द्वारा यह आरोप लगाया जाता है कि वह देश की शिक्षा प्रणाली को कमजोर करने में लगी हुई है और उसके बाद नीतीश कुमार द्वारा पटना विश्वविद्यालय को केंद्रीय विश्वविद्यालय का दर्जा ना दे पाना इस बात में और सहयोग देता है अब जिसके बाद राहुल गांधी का इस तरीके का बयान आना सीधे-सीधे तौर पर नरेंद्र मोदी पर हमला करते हुए नीतीश कुमार के लिए भी एक किरकिरी बन सकता है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here