इन देशों में समलैंगिकता है अपराध, मिलती है सजा- ए- मौत, तो ये देश हैं Gay फ्रेंडली

0
50

जयपुर, सुप्रीम कोर्ट ने आईपीसी की धारा 377 के एक विशेष हिस्से को समाप्त करते हुए फैसला सुनाया है। इस फैसले के तहत भारत में समलैंगिकता अपराध नहीं माना जाएगा। मामले की सुनवाई कर रहे सीजेआई दीपक मिश्रा ने कहा कि समलैंगिकता को लेकर मानसिकता बदलने की जरूरत है। फैसला देते समय कहा की सविंधान के अनुसार हर व्यक्ति को समाज में जीने का अधिकार है। इसलिए समलैंगिकता अपराध की श्रेणी में ऩहीं आता है। साथ ही उन्होंने कहा कि इससे एलजीबीटी समुदाय को अलग नजरों से नहीं देखा जाएगा।Image result for एलजीबीटी

साथ ही उनको एक पहचान भी मिलेगी। आज आपको कुछ ऐसे देशों के बारे में बता रहे है जहां पर समलैंगिकता अपराध माना जाता है। और इसके लिए सजा ए मौत की सजा का प्रावधान है। साथ ही आपको उन देशों के बारे में भी बताएंगे। जहां पर समलैंगिकता को अधिकारिक तौर पर मान्यता दी गई है। विश्व मे करीब 76 देश ऐसे है जहां पर समलैंगिकता को अपराध माना जाता है। साथ ही इसके लिए सजा का प्रावधान भी है। ऐसे देशों मे अधिकतर एशियाई, खाड़ी और अफ्रीकी देश हैं।Image result for एलजीबीटी

समलैंगिकता पर सजा दी जाती है। वहां पर समलैंगिकों के खिलाफ हिंसा और उत्पीडऩ जैसे मामले आम बात हैं। वही दूसरी औऱ 26 देश ऐसे है जहां पर इस अपराध के लिए मौत की सजा दी जाती है। इन देशों में ईरान, सूडान, सऊदी अरब और यमन, सोमालिया के कुछ हिस्से व उत्तरी नाइजीरिया शामिल है। मॉरिशानिया, अफगानिस्तान, पाकिस्तान, कतर और संयुक्त अरब अमीरात में भी सैद्धांतिक रूप से समलैंगिकता के मामले में मौत की सजा का ही प्रावधान है।Related image

जबकि आपको कुछ ऐसे देश बता रहे है जहां पर समलैंगिकता को कानूनी मान्यता दे दी गई है। इन देशों मे अर्जेंटीना,  ऑस्ट्रेलिया, बेल्जियम, ब्राज़ील, कनाडा,  कोलंबिया, डेनमार्क, इंग्लैंड, फिनलैंड,  फ्रांस, जर्मनी,  ग्रीनलैंड, आइसलैंड,  आयरलैंड, लक्ज़मबर्ग, माल्टा, उरुग्वे,  नीदरलैंड, न्यूज़ीलैंड, नॉर्वे, पुर्तगाल,  स्कॉटलैंड, दक्षिण अफ्रीका, स्पेन, यूएस, स्वीडन औऱ भारत यह ऐसे देश है जहां पर एलजीबीटी समुदाय को मान्यता दी गई है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here