Historic Site:हम्पी भारत का ऐतिहासिक पर्यटन स्थल, इन कारणों से यहां बढ़ाई सुरक्षा

0

जयपुर।भारत के कर्नाटक राज्य में स्थित हम्पी एक ऐतिहासिक पर्यटन स्थल और विश्व विरासत सूची में शामिल है।हम्पी मध्यकालीन विजयनगर साम्राज्य की राजधानी थी। तुंगभद्रा नदी के तट पर स्थित यह नगर अब हम्पी नाम से जाना जाता है और अब केवल खंडहरों के रूप में ही अवशेष है। इन्हें देखने से प्रतीत होता है कि किसी समय में यहाँ एक समृद्धशाली सभ्यता का विकास हुआ था।

हम्पी में बढ़ाई गई निगरानी—
हम्पी विरासत स्थल में प्रभावी निगरानी के लिए प्रशासन यहां पर सीसीटीवी की संख्या बढ़ाने की योजना बना रहे हैं।हम्पी में पर्यटकों के बढ़ते कदमों के कारण यहां के अधिकारी स्मारकों की सुरक्षा के लिए सतर्कता बढ़ाने की योजना बना रहे हैं। वर्तमान में हम्पी के विभिन्न स्थानों पर 100 गार्ड और 20 सीसीटीवी के द्वारा स्मारक स्थल की रखवाली की जा रही है।

इस कारण हम्पी में बढाई जा रही सुरक्षा—
हम्पी में कानून और व्यवस्था की स्थिति को देखने के लिए एक छोटी सी टीम के साथ हम्पी के लिए एक अलग पुलिस चौकी का निर्माण किया गया है। हम्पी विश्व विरासत क्षेत्र प्रबंधन प्राधिकरण के अधिकारियों ने बताया है कि हम्पी और इसके स्मारकों को सभी दिशाओं से सुरक्षा देने के लिए एक विचार में कुछ महीने पहले अतिरिक्त सीसीटीवी कैमरों का प्रस्ताव भेजा गया था, ताकि यह पर मौजूद ऐतिहासिक स्मारकों को कोई नुकसान नहीं हो सकें।क्योंकि पिछले दिनों अनियंत्रित पर्यटकों ने कई पत्थर के खंभों को नुकसान पहुंचाने की कोशिश की और हाल के दिनों में यहां पर कई स्मारक क्षतिग्रस्त पाएं गए है।

हम्पी की प्राकृतिक सुंदरता को खतरा—
भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण ने ड्रोन को स्मारकों के पास उड़ान भरने से रोक दिया है और उच्च गुणवत्ता वाले सीसीटीवी कैमरों को खरीदे जाने व उनको लगाने के लिए 20 लाख खर्च किए गए हैं। लेकिन स्थानीय लोगों ने चेतावनी दी कि अतिरिक्त सीसीटीवी से हम्पी की प्राकृतिक सुंदरता को नुकसान हो सकता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here