सौर वाटर हीटर विकसित करने के लिए हिमाचल की संस्था को नवाचार पुरस्कार

0
445

सामुदायिक गैर सरकारी संगठन, हिमालयन अनुसंधान समूह ने एक किफायती सौर वाटर हीटर प्रणाली विकसित करने के लिए 2016-17 का हिमाचल प्रदेश राज्य नवाचार पुरस्कार जीता है। स्थानीय लोग इसे सौर ‘हमाम’ कहते हैं, जो कठिन मौसम स्थितियों में ग्रामीण परिवारों को किफायती लागत पर स्वच्छ ऊर्जा उपलब्ध कराकर ईंधन की आवश्यकता को कम करता है।

कांगड़ा जिले के इंदोरा में राज्यस्तर के स्वतंत्रता दिवस समारोह में यह पुरस्कार मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर द्वारा हिमालयन अनुसंधान समूह के निदेशक लाल सिंह को दिया गया। समूह ने इस नई पहाड़ी सौर वाटर हीटर प्रणाली को भारत सरकार के विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विभाग के कोर सपोर्ट प्रोग्राम के तहत विकसित किया है।

समूह राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय एजेंसियों के समर्थन से पहले ही हीटिंग प्रणाली को हिमाचल प्रदेश और जम्मू-कश्मीर की जांस्कर घाटी के 663 घरों में लगा चुका है। साथ ही हिमाचल प्रदेश के शिमला, चंबा और सिरमौर जिलों में 350 प्रणालियों को स्थापित करने की प्रक्रिया चल रही है।

लाल सिंह ने कहा कि यह पुरस्कार कठिन पहाड़ी क्षेत्रों में ग्रामीण समुदायों के लिए आवश्यक प्रौद्योगिकी समाधान मुहैया कराने के नए तरीके के दृष्टिकोण को मान्यता देता है।

उन्होंने एक बयान में कहा, “हम मंडी जिले के चच्योट तहसील स्थित धांगियारा व विभिन्न गांवों में हमारे केंद्र में कारीगरों को प्रशिक्षित कर रहे हैं, ताकि प्रशिक्षण शिविरों के माध्यम से जम्मू-कश्मीर और अन्य हिमालयी राज्यों से सटे हिमाचल के नए क्षेत्रों में इस प्रौद्योगिकी को फैलाया जा सके।”

न्यूज स्त्रोत आईएएनएस

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here