यहां पर शादी होने से पहले देनी पड़ती है इस जीव की बलि,जानिए

0
82

जयपुर, प्रथा के नाम पर जानवरों की बलि देना गलत है। दुनिया में ऐसी कई प्रकार की परंपाए प्रचलित है जिनमें जीवों की हत्या की जाती है। विश्व के सभी देशों में शादियों को लेकर अलग अलग तरह की परंपराओं का निर्वहन किया जाता है। कहीं पर शादी के बाद दुल्हन को बिना कपड़ों के रखा जाता है तो कहीं पर दूल्हें को टॉयलेट जाने की अनुमित नहीं होती है। इतना ही नहीं ये परंपराएं सदियों से निभाई जा रही है।

हालंकि इनमें कई सारे कार्य अच्छे भी होते है। पहले के जमाने में इस तरह की परंपराओं को शादी के बाद दुल्हा दुल्हन को एक दूसरे के साथ घुलमिल जाने के लिए निभाया जाता था। आज हम आपको दुनिया की एक ऐसी जगह की परम्परा के बारे में बताने जा रहे है जिसके बारे में आपने पहले नहीं सुना होगा और जानने के बाद हैरानी होगी।

जिस रिश्तों को मजबूत बनाने के लिए जहां एक तरफ दो लोगों के बीच प्यार की जरूरत होती है तो वहीं शादी के दौरान की जाने वाली रस्में भी इन्हें मजबूत बनाने का काम करती हैं। यहां पर शादी से पहले नव दंपती को चूजे की बलि देनी होती है।Image result for मंगोलिया में शादी की परंपरा

जानकारी के लिए बता दें कि ये परंपरा मंगोलिया के डॉर्स जनजाति में शादी के दौरान निभाई जाती है।यहा पर सबसे पहले दूल्हा दुल्हन को चूजे को चाकू से मारना पड़ता है और दोनो उसका लिवर निकालते है।

माना जाता है कि उसकी लिवर स्वस्थ होता है तो दंपती का आगे आने वाला समय काफी अच्छा होगा।जानजाति में इस परंपरा के बाद ही शादी की तारीक तय की जाती है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here