यहां पर लडकियां जवान होने पर ऐसे चलता है पता, फिर नहीं होता ऐसा…

0
58
जयपुर। जैसा की आप जानते हैं कि हर इंसान की दिली ख्वाहिश होती है कि वह इतना सुंदर दिखे की सभी की जहां भी जाएं सभी की नजरें उस पर टिकी हो। तथा लोग खुद को खूबसूरत बनाने के लिए लाखों तरह के नुस्खे भी आजमाते हैं। आपकी जानकारी के लिए बात दें कि लड़को की तुलना में लड़कियां अपनी खूबसूरती पर ज्यादा ध्यान देती है। तथा वे अपनी खूबसूरती को निखारने के लिए कई तरह के प्रयास भी करती है। बता दें कि बालों का खूबसूरती में एख अहम रोल होता है।  आज हम आपको इस आर्टिकल में एक ऐसी जगह के बारे में बताने जा रहे हैं जहां पर लोग लड़कियों के जवान होने का पता कुछ अलग अंदाज से पता लगाते हैं।
यहां पर लडकियां जवान होने पर ऐसे चलता है पता, फिर नहीं होता ऐसा...

जैसा की आप जानते हैं कि आजकल की लडकियां अपनी खूबसूरती को बढ़ाने के लिए हर वो प्रयोग करती है जो उनके लुक को चार चांद लगाता है।  ऐसे में बहुत सी लडकियां और महिलाएं जो अपने लुक के लिए बालों को बढाती है। लेकिन आज हम आपको चीन के गुआंगशी प्रांत के हुआंगलुओ गांव के बारे में बता रहे हैं। यहां की ज्यादातर महिलाओं के बाल 3 से 7 फुट तक लंबे होते हैं।

आपकी जानकारी के लिए बात दें कि इस गांव में रहने वाली ये जनजाति 200 वर्ष पुरानी है। जिनमें 60 महिलाएं हैं। डेलीमेल के अनुसार, यह महिलाएं याओ जाति की हैं जो अपने काले  चमकीले और लंबे बालों के लिए पूरे चीन में अपनी अलग पहचान बनाती हैं।

बता दें कि इस गांव में सबसे छोटे बाल 3 फीट के हैं वहीं सबसे लंबे बाल 7 फीट के हैं। गांव में 51 वर्ष की पान जिफेंग हैं जो इस परंपरा को अब तक जिंदा रखे हुए है।

 

पान जिफेंग के अनुसार जब कोई लडक़ी 18 साल की होती है तो हम उसके बाल काटते हैं जिसका मतलब होता है कि वो जवान हो गई और शादी के लायक भी। उसके बाद फिर कभी उसके बाल नहीं काटे जा सकते।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here