हरतालिका तीज पर जानिए शिव पार्वती की मूर्ति स्थापना का सही समय

0
wished-good-luck-fast-Hrtalika-Teej today

पंचांग के मुताबिकर हर साल आने वाली भाद्रपद मास के शुक्ल पक्ष की तृतीया हरतालिका तीज के नाम से जानी जाती हैं इस साल यह त्योहार आज यानी 21 अगस्त दिन शुक्रवार को मनाया जाता हैं इस दिन महिलाएं निर्जला व्रत करके उत्साहपूर्वक मनाती हैं इस बार तृतीया तिथि शुक्रवार रत्रि में 1 बजकर 59 मिनट तक हैं। इस साल उत्तराफाल्गुनी नक्षत्र, सिद्ध तदुपरि साध्य योग मं तीज व्रत का त्योहार बहुत ही शुभ योग में मनाया जा रहा हैं। तो आज हम आपको हरतालिका तीज व्रत में शिव पार्वती की मूर्ति स्थापना का सही समय बताने जा रहे हैं तो आइए जानते हैं।

हरतालिका तीज व्रत में महिलाओं को स्वयं अपने हाथों से माता पार्वती और शिव की मिट्टी की मूर्ति बनाकर पूजा करनी होती हैं पंचामृत, पुष्प, माला, भोग, धूप, दीपक आदि से पंचोपचार विधिवत पूजा करते हुए शिव और मां पार्वती की मृतिका मूर्ति को सुंदर बनाए गए मण्डप में स्थापित करने का शुभ मुहूर्त दिन में 1 बजे से लेकर दोपहर 2 बजकर 18 मिनट के बीच हैं। आज शाम को 4 बजकर 21 मिनट से शाम को 7 बजकर 39 मिनट के मध्य कथा सुनकर वायन अर्थात् सौभाग्य और माता पार्वती के निमित्त श्रृंगार की सामग्री का दान करने का शुभ मुहूर्त बना हैं।

वही हिंदू धर्म शास्त्रों के मुताबिक अगर चंद्रमा कन्या राशि में हो तो तीज का सौभाग्यशाली योग माना जाता हैं इस नजरिएं से देखा जाए तो उत्तराफाल्गुनी नक्षत्र का तीन चरण कन्या का होने के कारण इस साल तीज त्योहार बहुत ही शुभ सौभाग्यदायक हैं पारिवारिक सुख शांति, समृद्धि के लिए यह त्योहार बहुत ही महत्वपूर्ण हैं। अखण्ड सौभाग्य और वंश वृद्धिकी पवित्र कामना से महिलाएं तपस्या कर इस व्रत पर्व को करती हैं। वही आज शिव पार्वती की पूजा के बाद इस मंत्र का जाप अवश्य ही करें।

सौभाग्यं शुभदं चैव परिवारे सुखवर्द्धनम्।

आरोग्य समृद्धि सहिताय वंशवृद्धि करोतुमाम्।।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here