हनुमान जयंती पर घर में ही रहकर करें पवनपुत्र हनुमान की पूजा

0

आपको बता दें कि चैत्र मास की पूर्णिमा तिथि यानी की आठ अप्रैल को हनुमान जयंती का पर्व मनाया जाएगा। इस साल कोरोनावायरस के कारण देशभर में लॉकडाउन हैं सभी मंदिर बंद हैं ऐसी स्थिति में घर में ही रहकर हनुमान जी की आराधना करना उचित होगा। घर से बाहर निकलने से बचें ज्योतिष के मुताबिक आज हम आपको बताने जा रहे हैं कि हनुमान जयंती पर कैसे पवनपुत्र को प्रसन्न किया जाएग, तो आइए जानते हैं।

बता दें कि हनुमान जयंती के दिन जल्दी सुबह उठकर और स्नान के बाद सूर्य देव को जल अर्पित करें। इसके बाद घर के मंदिर में पूजा पाठ की व्यवस्था कर लें। पूजा में हनुमान जी को चूरमें का भोग लगा सकते हैं। वही श्रीराम भक्त हनुमान को सिंदूर में तेल मिलाकर चढ़ाएं दीपक जलाकर ऊँ रामदूताय नम:मंत्र का विशेष जाप करें मंत्र का जाप कम से कम 108 बार होना चाहिए। वही हनुमान जयंती पर बजरंगबली के साथ श्रीराम की भी विशेष पूजा की जाती हैं यह जरूरी माना जाता हैं पूजा में सुंदरकांड या हनुमान चालीसा का पाठ अवश्य करना चाहिए। वही गरीबों और जरूरतमंद लोगो को इस दिन धन और अनाज का दान भी करना चाहिए इस समय जरूतरमंद लोगों के लिए खाने की व्यवस्था भी कर सकते हैं। हनुमान जयंती के दिन हनुमान जी को लाल ध्वज अवश्य अर्पित करना चाहिए। यह ध्वज तिकोना होना चाहिए और इस पर श्रीराम लिखा होना जरूरी हैं इस ध्वज को वाहन पर लगाने से दुर्घटनाओं से सदैव बचाव होता हैं। श्रीराम की पूजा मात्र से भी बजरंगबली प्रसन्न हो जाते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here