गुरु का हुआ उदय 15 जनवरी से मांगलिक कार्य शुरू

0

आपको बता दें कि हिंदू धर्म में पूजा पाठ और शुभ, मांगलिक कार्य करने के लिए शुभ मुहूर्त देखा जाता हैं बिना किसी शुभ मुहूर्त के मांगलिक कार्य नहीं किए जाते हैं वही शुभ मुहूर्त में मांगलिक कार्य करना विशेष फलदायी और लाभकारी माना जाता हैं इससे अधिक पूर्ण की प्राप्ति भी मनुष्य को होती हैं इसलिए लोग शुभ मुहूर्त में मांगलिक कार्य करना पंसद करते हैं। वही मांगलिक कार्य के प्रमुख ग्रह गुरु उदय हो ग हैं जिसके चलते 15 जनवरी से शुभ कार्य प्रारंभ हो जाएंगे। वही नए साल का पहला साह लग्न 15 जनवरी को होगा, इस दिन से शहनाई बजनी शुरू हो जाएंगी।

वही गुरु अस्त होने के कारण ही 16 दिसबंर से शुभ और मांगलिक कार्य बंद हो गए थे। वही सूर्य के धनु राशि से मकर राशि में प्रवेश करने के साथ ही गृह प्रवेश, भवन क्रय विक्रय, मुडंन व शादी विवाह कार्य शुरू हो जाएंगे। वही ज्योतिष अनुसार तीन मार्च से होलाष्टक प्रारंभ हो जाएंगे। होलाष्टक में मांगलिक कार्य करना वर्जित होता हैं। सूर्य के धनु राशि से मकर राशि में प्रवेश करने के बाद से ही शुभ कार्य शुरू हो जाते हैं वही ज्योतिष ने बताया कि 29 जनवरी को बसंत पंचमी पर अबूझ मुहूर्त होंगे।

जानिए विवाह के शुभ दिन और मुहूर्त—
जनवरी— 15, 16, 17, 19, 20, 22, 24, 26, 29, 30 जनवरी को रहेगा।
फरवरी— 1, 3, 4, 9, 10, 14, 16, 23, 26, 27, 28 फरवरी को रहेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here