Guru nanak jayanti 2020: गुरुनानक जयंती पर जानिए नानक देव से जुड़ी खास बातें और उनकी शिक्षाएं

0

पंचांग के मुताबिक गुरु नानक देव जी का जन्म कार्तिक मास की पूर्णिमा के दिन हुआ था। हर साल इस दिन नानक जयंती भी मनाई जाती हैं इस साल गुरुनानक जयंती 30 नवंबर को मनाई जाएगी। यह पर्व सिखों का सबसे खास त्योहार होता हैं गुरु नानक जयंती को गुरु पर्व और प्रकाश पर्व के नाम से जाना जाता हैं गुरु नानक जी का जन्म 1469 में तलवंडी नामक स्थान पर हुआ था। यह स्थान अब पाकिस्तान में हैं जिसे ननकाना साहिब के नाम से जाना जाता हैं। तो आज हम आपको गुरु नानक देव से जुड़ी खास बातें और उनकी शिक्षाओं के बारे में बताने जा रहे हैं तो आइए जानते हैं।

बता दें कि बचपन से ही गुरु नानक में प्रखर बुद्धि के लक्षण दिखाई देने लगे थे। उम्र की छोटी सी अवस्था में ही ये सांसारिक चीजों की ओर से उदासीन रहते थे। नानक जी का विद्यालय महज 7—8 साल की उम्र में छूट गया था। भगवत प्राप्ति के संबंध में इनके प्रश्नों से इनके अध्यापक भी हार मान जाते हैं जिसके बाद वे इन्हें ससम्मान घर छोड़ गए थे। पढ़ाई छूटने के बाद नानक जी का अधिकतर समय आध्यात्मिक चिंतन और संत्संग में ही गुजर जाता था। गुरुनान देव के बाल्यावस्था में कई चमत्कारिक घटनाएं हुई जिन्हें देखकर गांव के लोग इन्हें दिव्य आत्मा मानने लगे। गुरु नानक की प्रथम भक्त इनकी बहन नानकी थी।

जानिए गुरुनानक देव की शिक्षाएं—
नानक ने कहा है कि परम पिता परमेश्वर एक हैं, सदैव एक ही ईश्वर की आराधना करनी चाहिए। ईमानदारी और परिश्रम से ही अपना पेट भरना चाहिए। ईश्वर हर प्राणी, हर स्थान में विद्यमान हैं। किसी को न सताएं, किसी के बारे में बुरा न सोचें। शरीर के लिए भोजन आवश्यक होता हैं परंतु आवश्यकता से अधिक संचय न करें। सांसारिक बातों में इतना मोह न लगाएं की ईश्वर को याद करने का समय न हो। लोभ से दूर रहना चाहिए।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here