Guru gobind singh jayanti 2021: कल मनाया जाएगा प्रकाश पर्व, जानिए गुरु गोबिंद सिंह के अनमोल विचार

0

गुरु गोविंद सिंह सिख धर्म के दसवें गुरु थे कल यानी 20 जनवरी दिन बुधवार को गुरु गोविंद सिंह जी की जयंती मनाई जाएगी। सिख समुदाय इनकी जयंती को प्रकाश पर्व के रूप में बड़े ही उमंग और उत्साह के साथ मानते हैं हिंदू कैलेंडर के मुताबिक गुरु गोबिंद सिंह जी का जन्म पौष मास की शुक्ल पक्ष की सप्तमी तिथि को हुआ था। गुरु गोबिंद सिंह का जन्म बिहार राज्य की राजधानी पटना में हुआ था। सिखों के दसवें गुरु, गुरु गोबिंद सिंह का जीवन परोपकार और त्याग का जीता जातगता उदारण हैं तो हम आपको प्रकाश पर्व के शुभ अवसर पर इस दिन के महत्व और गुरु गोबिंद सिंह के अनमोल विचार बताने जा रहे हैं तो आइए जानते हैं।

गुरु गोबिंद सिंह एक आध्यात्मिक गुरु थे। जिन्होंने मानवता को शांति, प्रेम, करुणा, एकता और समानता की सीख दी। उन्होंने अपने जीवन में कभी भी धन संपदा, राजसत्ता की प्राप्ति या यश के लिए लड़ाईयां नहीं लड़ी। उन्होंने अन्याय, अधर्म, अत्याचार और दमन के खिलाफ लड़ाईयां लड़ी। इन्होंने ही खालसा पंथ की स्थापना की थी।

जानिए गुरु गोबिंद सिंह के अनमोल विचार—
अपनी जीविका ईमानदारी पूर्वक काम करते हुए चलाएं। अपनी कमाई का दसवां भाग दान करें। काम में खूब मेहनत करें और काम को लेकर किसी तरह की आलस्यपन न करें। अपनी जवानी, जाति और कुल धर्म को लेकर घमंडी होने से बचें। दुश्मन का सामना करने से पहले साम, दाम, दंड और भेद का सहारा लें और अंत में ही आमने सामने के युद्ध में पड़ें। किसी की चुगली निंदा से बचें और किसी किसी से ईष्या करने के बजाय मेहनत करें। हमेशा जरूरतमंद लोगों की मदर करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here