फिल्म सूरमा के परदेसियां गाने में गुलजार ने बयां कि संदीप की जिंदगी के वो दो साल

0
57

बॉलीवुड में बायोपिक का चलन चल पड़ा है जिसमें महान दिग्गजों की कहानियों को पर्दे पर उतारा जा रहा है।फिल्म संजू के बाद ह़ॉकी प्लेयर संदीप सिंह की जिंदगी पर्दे पर दिखाई जाएगी।बता दें फिल्म का ट्रेलर तो पहले ही रिलीज कर दिया गया था जिसे देखने के बाद दर्शक बेसब्री से फिल्म के आने का इंतजार कर रहे है।

हाल ही में फिल्म का दूसरा गाना रिलीज किया गया जिसमें संदीप की जिंदगी के उन दो सालों का वर्णन है जिस समय वो जिंदगी और मौत के बीच अपनी जंग लड़ रहे थे।सबसे पहले गाने में दिखाए गये सीन की बात करते है बता दें संदीप को साल 2006 में ट्रेन में गोली लग जाती है जिसके कारण वो कमर से लेकर पैरों तक पेरालाइजिज का शिकार हो जाते है।

संदीप उस समय इलाज के लिए हर जगह जाते है तब जाकर उनका इलाज विदेश में शुरु किया जाता है जहां डॉक्टर्स हर तरह से संदीप को ठीक करने की कोशिशे करने में लगते है वही संदीप को भले ही इतने भयानक एक्सीडेंट का शिकार होना पड़ा वो फिर भी चलना चाहते है।और एक बार फिर अपने पैरों पर खड़े होने की चाह रखते है।

फिल्म के इस गाने में दर्शकों को रोने पर मजबूर होना पड़ जाएगा बता दें गाने को गुलजार ने लिखा है।जब गुलजार को फिल्म की कहानी सुनाई गई थी तो उन्हें भी कहानी सुनकर रोना आ गया था और उन्होने कहा था कि वो खुद इस गाने को कम्पोज करेंगे गाने को लिरिक्स गुलजार ने और आवाज शंकर अहसान ने दी है।

फिल्म में दिलजीत दोसांझ संदीप का किरदार प्ले कर रहे हैवही तापसी पन्नू अंगद बेदी भी फिल्म में मुख्य किरदार निभा रहे है फिल्म का निर्माण अभिनेत्री चित्रांगदा सिंह कर रही है वही फिल्म का डायरेक्शन शाद अली ने किया है बता दें फिल्म इसी महीने की 13 जुलाई को रिलीज होने जा रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here