OTT: सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय के दायरे में ओटीटी प्लेटफॉर्म, ​नहीं दिखा सकते हिंसा और नग्नता

0

इन दिनों ओटीटी प्लेटफार्म काफी ज्यादा सक्रिय है। आज ढेर सारी फिल्में और वेब सीरीज यहां पर रिलीज की जाती है। अगर हम भारत के टॉप मशहूर ओटीटी प्लेटफार्म की तो इसलिस्ट में सबसे पहले नेटफ्लिक्स, अमेजन प्राइम वीडियो, डिज्नी हॉटस्टार जैसे शामिल है। अब ओटीटी प्लेटफार्म को लेकर एक बड़ी खबर सामने आई है। जिसको सुनकर शायद कुछ लोगों को झटका लगने वाला है। सूचना और प्रसारण मंत्रालय अब ओटीटी प्लेटफार्म पर लगाम कसने वाली है। ओटीटी प्लेटफार्म सूचना और प्रसारण मंत्रालय के अंतर्गत आने के बाद इन पर हिंसा व नग्नता पर लगाम लगाने वाली है। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि अब तक ओटीटी प्लेटफार्म और डिजिटल मीडिया पर नियंत्रण रखने के लिए किसी भी तरह की कोई संस्था नहीं थी। जिसकी वजह से यहां पर फिल्म मेकर्स और प्रोड्यूसर्स अपने अपने हिंसाब से दर्शकों के सामने कुछ भी परोसा जा रहा था। ओटीटी प्लेटफार्म पर ऐसे कंटेंट की भरमार है जिसमे हद से ज्यादा बोल्डनेस और हिंसा दिखाई गई है। हालांकि अब ऐसा नहीं होने वाला है। अब देश की सरकार इसके लिए सतर्क हो चुकी है। ओटीटी प्लेटफार्म पर अत्यधिक हिंस से लेकर नग्नता तक सब कुछ परोसा जा रहा था। डिजिटल प्लेटफार्म पर दिखाई जाने वाले कंटेंट पर एक बार नहीं कई बार हाईकोर्ट और सुप्रीम कोर्ट ने अपनी चिंता जताई थी। अब पिछले महीने ही सुप्रीम कोर्ट ने ओटीटी प्लेटफार्म पर नियमन की मांग वाली याचिका पर केंद्र सरकार, सूचना व प्रसारण मंत्रालय और मोबाइल एसोसिएशन ऑफ इंडिया को नोटिस भेजा था। जिसमे ये कहा गया था कि, इन ओटीटी प्लेटफार्म के जरिये फिल्म मेकर्स व कलाकारों को सेंसर बोर्ड के डर व प्रमाणपत्र के लिए अपना कंटेंट रिलीज करने का मौका मिल गया है। इसके अलावा सुप्रीम कोर्ट ने एक मामले में डिजिटल मीडिया पर नियमंत्रण टीवी से ज्यादा होने की बात कही है। जिसके बाद देश की सरकार ने यह विशेष और महत्वपूर्ण कदम उठाया है। बता दें ओटीटी प्लेटफॉर्म, समाचार और समसामयिकी से जुड़ी सूचना देने वाले सभी ऑनलाइन प्लेटफॉर्मों को सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय के तहत लाने का फैसला करते हुए उसे डिजिटल स्पेस के लिए नीतियों और नियमों का विनियमन करने का अधिकार सौंप दिया है। हालांकि कुछ कंटेंट क्रिएटर सरकार के इस फैसले से खुश नहीं है और इसे स्वीकार करने से इंकार भी कर दिया है।

Cardi B: रैपर कार्डी बी जूते को प्रमोट करते ही हुई सोशल मीडिया पर ट्रोल, फूटा लोगों का गुस्सा

OTT: सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय के दायरे में ओटीटी प्लेटफॉर्म, ​नहीं दिखा सकते हिंसा और नग्नता

Karan Wahi: दीवाली पर पटाखे न जलाने की नसीहत देना करण वाही को पड़ा भारी, सोशल मीडिया पर भड़के लोग

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here