सरकार ने किया स्वीकार, पहले लीक हुये थे सालाना रोजगार सर्वेक्षण के आंकड़े

0
53

जयपुर। देश में बढ़ रही बेरोजगारी के सर्वेक्षण से जुड़े आंकड़ों को लेकर जो बातें लीक हुई थी उसे अब सरकार ने स्वीकार कर लिया है आपको बता दें कि आधिकारिक तौर पर जारी किए जाने वाले सर्वे से पहले ही इसकी बात सामने आ गई थी और अब इस बात को लेकर सरकार ने मान लिया इस सांख्यिकी और कार्यक्रम कार्यान्वयन राज्य मंत्री राव इंद्रजीत सिंह ने बृहस्पतिवार को राज्यसभा में प्रश्नकाल के दौरान की बात स्वीकार करी है.

 

आपको बता दें कि उन्होंने कहा कि इस सर्वेक्षण का परिणाम लिख हुआ था और यह बात एकदम दुरुस्त है उन्होंने बताया कि सर्वेक्षण का परिणाम 30 मई 2019 को सार्वजनिक होना था मगर इसके पहले ही उसका डाटा लीक हो गया सिंह ने इसे गंभीर मामला बताते हुए कहा कि हम यह नहीं कह सकते कि डाटा किसने लिखी है लेकिन किसी ने लीक जरूर किया है.

वहीं उन्होंने सर्वेक्षण में बेरोजगारी की दर पर अपनी अधिकतम स्तर 6.1% पर पहुंचने की वजह से जुड़े पूरक प्रश्न के जवाब में कहा कि जुलाई 2017 में जून 2018 के दौरान राष्ट्रीय परिदृश्य सर्वेक्षण कार्यालय द्वारा किए गए आवधिक श्रमबल सर्वेक्षण से उपलब्ध पहले अनुमान के आधार पर सामान्य स्थिति में बेरोजगारी की दर 6.1% रही है.

वह इसके अलावा उन्होंने यह भी स्पष्ट किया कि पिछले 5 सालों में अंतराल में यह सर्वेक्षण किया गया और लेकिन यह हमेशा नए तरीके से प्रतिवर्ष किए जाने की शुरुआत रही है वहीं प्रतिकृति वर्ष की तिमाही के आधार पर किए जाने वाले सर्वेक्षण में नया तरीका अपनाने और बेरोजगारी दर पर 2011- 12 में दिए गए पिछले सर्वेक्षण में दर्शाएं के 2.2% से अधिक आई है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here