सुबह का उठना ही तय करता है की किस वक्त होगी आपकी मृत्यु जानिए कैसे

0
112

जयपुर। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि अक्सर लोगों को देर तक रात जागने की आदत होती है। वहीं कुछ ऐसे भी होते हैं जो सुबह बहुत जल्दी ही उठ जाते हैं। आपने देखा होगा कई लोगों का सोने और उठने का समय निर्धारित होता है। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि आपके उठने के समय पर ही आपकी मौत का समय निर्भर करता है। इन्हीं आदतों से आपकी मौत का समय निर्धारित होता है। आज हम आपको इस आर्टिकल के जरिए बताने जा रहे हैं कि किस तरह आपकी मौत का समय आपके सोने व जगने के समय पर निर्भर करता है।

आपकी जानकारी के लिए बात दें कि अभी ही में एक शोध के जरिए इस बात का पता चला है कि आपके रात को सोने और सुबह उठने के समय से ही यह बात निर्धारित होता है कि आपकी मृत्यु दिन का दिन और समय या पहर क्या होगा।

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि इस बात का खुलासा अमेरिका के हार्वर्ड मेडिकल स्कूल के वैज्ञानिक एंड्रयू लिम के रिसर्च के जरिए किया है। रिसर्च के इनुसार हमारे शरीर के भीतर एक घड़ी जो हमारी आदतों को आब्जर्व कर हमारे सोने और उठने का समय निर्धारित करती है।

आदत के अनुसार हमें हमारे सोने और उठने के समय पर हमें नींद आने लगती है और हम उठ जाते हैं। जिन शारीरिक कार्यों को हम अपने निर्धारित समय के अनुसार करते हैं वो हमारे दिल कि धड़कन से जुड़ी हैं। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि ठीक इसी तरह मृत्यु की भी एक लय होता है। वैज्ञानिक एंड्रयू लिम के रिसर्च के अनुसार औसत के अनुसार सुबह के 11 बजे ज्यादातर लोगों की मौत होती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here