गंभीर ने किया खुलासा, आखिर क्यों 2007 में ही लेना चाहते थे संन्यास

0

जयपुर (स्पोर्ट्स डेस्क) गौतम गंभीर टीम इंडिया के महत्वपूर्ण खिलाड़ियों में से एक रहे हैं जिन्होंने अपनी टीम कोई जीत दिलाई है। गौतम गंभीर का योगदान भारतीय टीम को टी 20 विश्व कप और वनडे विश्व कप दिलाने में भी रहा है। वैसे गौतम गंभीर ने एक राज खोलते हुए बताया कि अगर इस खिलाड़ी को 2007 टी 20 विश्व कप में मौका नहीं मिला होता तो उसने तभी संन्यास ले लिया होता।

गंभीर ने एक कार्यक्रम के तहत बताया 2007 में जब मैंने 50 ओवर के विश्व कप को मिस किया तो यह मेरे करियर का खराब दौर था मैंने क्रिकेट छोड़ने का मन बना लिया था । इससे पहले अंडर 14 और अंडर 19 के विश्वकप नहीं खेल पाया था । 2007 में मुझे लग रहा था कि विश्व कप खेलने के करीब हूं लेकिन जब मुझे टीम में शामिल नहीं किया गया तो मैंने क्रिकेट छोड़ने का मन बना लिया था। गौतम गंभीर ने अपने अतीत के बारे में सोचते हुए बताया कि जब 2007 में मुझे टी 20 विश्व कप के लिए चुना गया तो मैं पाकिस्तान के खिलाफ पहले ही मैच में शून्य पर आउट हो गया लेकिन इस टूर्नामेंट में सबसे अधिक रन बनाने वाल खिलाड़ी बना। हमने इस टूर्नामेंट को जीत के साथ समाप्त किया । बता दें कि गौतम गंभीर ने साल 2018 में क्रिकेट से संन्यास लिया । वह लंबे  वक्त से भारतीय टीम से बाहर चल रहे थे। बता दें कि गौतम गंभीर ने संन्यास के  बाद राजनीती में प्रवेश किया है  और भारतीय  जनता  पार्टी के सांसद हैं। उन्हें हाल में लोकसभा चुनाव में पूर्वी दिल्ली से चुनाव लड़ा जिसमें जीत मिली ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here