जी20 ने लिया समु्द्र की प्लास्टिक को कम करने का जिम्मा

0
40

जयपुर। समुद्र में बढ़ती प्लास्टिक की समस्या के कारण हाल ही में दुनिया के 20  बड़ी अर्थव्यवस्था वाले देशों (जी 20) ने समुद्र में प्लास्टिक के कचरे की मात्रा में कमी लाने के लिए एक समझौते को लेकर सहमति जताई है।

इसके संबंध में हुई बैठक में जापान के पर्यावरण मंत्री योशियाकी हरादा ने बताया कि जापान ने समुद्री प्लास्टिक कचरे के लिए एक व्यावहारिक संरचना तैयार करने का प्रस्ताव दिया है। इस कदम का सदस्य देशों ने स्वागत किया है। इसी के साथ ही इस बात का समझौता किया है कि केवल जापान ही इस काम में एकेला नहीं होगा जी20 भी इसके लिए उनके साथ होगा।

क्योंकि प्लास्टिक प्रदूषण सिर्फ एक देश की समस्या नहीं है बल्कि ये समस्या अन्तर्राष्ट्रीय समस्या है। खासतौर पर यह चिंता इसलिए बढ़ गई है क्योंकि चीन के साथ अन्य देशों ने भी प्लास्टिक के आयात पर पूर्णरूप से प्रतिबंध लगा दिया है।

इसी के कारण जापान सहित ही अन्य देशों में प्लास्टिक का कचरा दिन—ब—दिन बढ़ता ही जा रहा है। बताया जा रहा है कि कारूईजावा के सेंट्रल माउंटेन रिजॉर्ट में हुई यह दो दिवसीय बैठक पहली ऐसी बैठक है जिसमें समुद्र में प्लास्टिक कचरे को कम करने के लिए एक रूपरेखा तैयार की गई है।

यही नहीं इस बैठक में उपस्थित सभी ने इस फैसले पर भी अपनी सहमति जताई है। जापान ने इसके बारे में दी एक रिपोर्ट में कहा है कि उम्मीद है कि जी20 के मंत्रियों द्वारा जारी संयुक्त बयान में इसे शामिल किया जाएगा। क्योंकि जापान के साथ ही अन्य कई देशों के लिए यह समस्या काफी बढ़ती ही जा रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here