सूरज की रोशनी और पानी से इस तरह से बनायेंगे ईंधन

0
63

जयपुर। ईंधन की कमी को देखते हुये दुनिया के सारें वैज्ञानिक इसी खोज में जुटे रहते है कि आखिर कैसे ईंधन को बायों तरीकों को फ्लो करते हुये बनाया जा सकें अभी तक कई जैविक तरीकों को अपनाकर इस ईंधन तैयार किया है जो सफल पूर्वक उपयोग में लाया जा सकता है। इसी खोज में भारतीय वैज्ञानिक भी पीछे नहीं है इन्होंने हाल ही में कृत्रिम पत्ती से हाइड्रोजन ईधन बनाने में बड़ी कामयाबी हासिल की है। वैज्ञानिकों ने बताया कि  ये पत्तीयां सूर्य के प्रकाश को अवशोषित कर पानी से हाइड्रोजन ईधन पैदा करने सक्षम हो सकती है।

इससे भविष्य में पर्यावरण के अनुकूल कारों के लिए स्वच्छ ईधन मुहैया कराने का सस्ता रास्ता हो सकता है। शोधकर्ताओं के अनुसार, पत्तियों जैसी यह बेहद महीन वायरलेस डिवाइस बनाया गया है जो पानी और सूर्य के प्रकाश के उपयोग से ईधन बना में सक्षम है। पुणे स्थित वैज्ञानिक और औद्योगिक अनुसंधान परिषद (सीएसआइआर) की राष्ट्रीय रासायनिक प्रयोगशाला में इसका प्रयोग किया है। इस के लिए वरिष्ठ मुख्य वैज्ञानिक सीएस गोपीनाथ ने बताया कि अक्षय ऊर्जा के संसाधनों से हाइड्रोजन की

उत्पत्ति से ही हमारी ऊर्जा और पर्यावरण की समस्याओं का समाधान हो सकता है। इनके अनुसार ये टिम एक दशक से पानी को विभाजित कर हाइड्रोजन बनाने पर काम कर रही थी। इस शोध में किसी भी तरह की कोई दिक्कत नहीं आती है क्योंकि भारत में पूरे साल सूर्य का प्रकाश भरपूर रहता है लेकिन इससे ऊर्जा या हाइड्रोजन नहीं बनाई जा सकती है। इसकी मदद से वैज्ञानिकों ने सोलर हाइड्रोजन बनाने का प्रयास किया है और इसको बनाने की विधि आसान और व्यावहारिक है।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here