विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों ने अक्टूबर में अब तक घरेलू पूंजी बाजार से निकाले 6,200 करोड़ रुपये

0
85

जयपुर। वैश्विक आर्थिक मंदी तथा व्यापार युद्ध की आशाओं के कारण निवेशकों की धारणा प्रभावित हुई है और इसी के चलते अक्टूबर महीने के पहले 2 सप्ताह में विदेशी पोर्टफोलियो निवेश अकों ने घरेलू पूंजी बाजार में करीब 6200 करोड़ रुपए से भी अधिक की निकासी करी है.

मीडिया में जानकारी के अनुसार बताया जा रहा है कि डिपाजिट के ताजा आंकड़ों के अनुसार 1 अक्टूबर से लेकर 11 अक्टूबर के दौरान एसबीआई ने शेयर बाजार में करीब 4955.20 करोड रुपए और ऋण पत्रों में करीब 1200 ₹करोड रुपए की शुद्ध निकासी करी है और इस तरह से आलोच्य अवधि में कुल करीब 6217.1 करोड रुपएकी रही है.

वैश्विक आर्थिक मंदी तथा व्यापार युद्ध की आशंकाओं के साथ ही विश्व बैंक और अन्य रेटिंग एजेंसियों द्वारा जीडीपी वृद्धि दर में की जा रही कटौती निवेशकों को अपनी पूंजी निकालने पर मजबूर कर रही है. बता दें कि, विश्व बैंक ने वित्त वर्ष 2018-19 में 6.9 फीसदी की वृद्धि दर वाली भारतीय अर्थव्यवस्था की आर्थिक वृद्धि दर का अनुमान घटाकर रविवार को छह प्रतिशत कर दिया.

वहीं विश्लेषक प्रबंध के हिमांशु त्रिवार श्रीवास्तव ने बताया है कि सितंबर में शुद्ध खरीदार रहने के बाद एफबीआई पूर्ण है अक्टूबर में बिकवाली करने लगा है और सरकार द्वारा आर्थिक सुधारों की घोषणा के बाद एफबीआई ने सितंबर में शुद्ध खरीदारी करी थी. वहीं गुरु के संस्थापक मुख्य परिचालन अधिकारी हर्षित जैन ने बताया है कि एफबीआई और एफबीआई का नया वर्गीकरण कुछ समय के लिए विदेशी निवेशकों की धारणा को प्रभावित कर सकता है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here