जानिए किस जमीन सौदे को लेकर राहुल-प्रियंका को घेर रही है भाजपा

0

जयपुर। लोकसभा की चुनाव की तारीखों का ऐलान हो चुका है और उसी के बाद से मैं अब राजनीति अपने चरम पर पुष्टि रहेगी वहीं अब इसी के लेकर राहुल गांधी और रॉबर्ट वाड्रा पर आरोप का दौर भी शुरू हो गया भाजपा ने 13 मार्च को एक न्यूज़ रिपोर्टर देते हुए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी और उनके उनके पति रॉबर्ट वाड्रा पर भ्रष्टाचार के आरोप लगाए हैं इसके अलावा इसके अलावा भी भारतीय जनता पार्टी की तरफ से स्मृति ईरानी ने कहा कि पिछले 70 सालों से संस्थागत भ्रष्टाचार कांग्रेस की देन रही है.

भारतीय जनता पार्टी की तरफ से कपड़ा मंत्री स्मृति ईरानी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए आरोप लगाए कि राहुल गांधी और रॉबर्ट वाड्रा के एच ए एल का हवा नाम के एक शख्स के कारोबारी रिश्ते हैं स्मृति रनिंग के अनुसार एचएल बाबा के यहां ई डी की रेट के दौरान राहुल गांधी के साथ लेनदेन के दस्तावेज मिले तो इसके अलावा जमीनी दस्तावेज की खरीददारी से संबंधित है चौंकाने वाली बात उन्होंने यह बताएं कि पहावा के पास जमीन खरीदने के लिए पैसे तो इस जमीन को खरीदने के लिए सी सी टी नाम के शख्स 50 करोड़ राहुल गांधी के नाम पर खरीदी गई थी.

वहीं स्मृति ईरानी ने कहा कि मनमोहन सरकार के दौरान एक रक्षा सौदा और पेट्रोलियम सदस्य संजय भंडारी और सीमित एमपी के तार जुड़े हुए हैं इसके अलावा राहुल गांधी पर आरोप लगाते हुए ने कहा कि राहुल की निधि नीच इच्छा थी कि यूरोफाइटर नाम की कंपनी को इस रक्षा सौदा मिले उनके इंटरेस्ट्स में शामिल थे भ्रष्टाचार में राहुल गांधी खुद शामिल है अब साले साहब जनता को बताएं कि उनकी दिलचस्पी क्यों है?

आपको बता दें कि पूरा यह मामला प्रियंका गांधी वाड्रा ने हरियाणा के फरीदाबाद में 5 एकड़ जमीन खरीदी थी उससे जुड़ा हुआ है और उसके दस्तावेजों से जुड़ा हुआ है यह जमीन हमीरपुर गांव के एच ए एल पहाड़ों में 1500000 में खरीदी गई थी कुछ समय बाद इसे जमीन को प्रियंका गांधी ने वापस बाबा का तिलक में बेच दी जमीन अप्रैल 2006 में खरीदी गई थी और जून 2009 में बिजी गई थी चित्रपट बटन 3 जमीने खरीदी और बाद में भी जाटों का कुल जमीन करीब 1.1 करोड़ में खरीद लिया और बाद में इन जमीन के टुकड़ों को तीन भागों में अलग-अलग कर कर तीन करोड़ में बेच दिया.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here