कौन होते हैं चाइनामैन गेंदबाज, विश्व क्रिकेट के ये पांच गेंदबाज रहे हैं इस कला में माहिर

0

जयपुर( स्पोर्ट्स डेस्क)  क्रिकेट में चाइनामैन गेंदबाज़ को बहुत ही अहम माना जाता है। यह गेंदबाज़ वह होता है जो  गेंद को अंगुलियों की बजाय कलाई से स्पिन कराता है। विश्व क्रिकेट इतिहास में कई चाइनामैन गेंदबाज़ रहे हैं।भारत के पास भी कुलदीप यादव के रूप चाइनमैन गेंदबाज़ हैं । हम यहां कुछ ऐसे ही गेंदबाज़ों के नाम बता रहे हैं।

कुलदीप यादव– बता दें कि टीम इंडिया के पास एकलौते चाइनामैन गेंदबाज़ कुलदीप यादव हैं । वह बाए हाथ के अनअर्थोडॉक्स हैं। कुलदीप यादव ने अपनी कला को निखारा है और अब तक वह कई शानदार प्रदर्शन कर चुके हैं । टीम में उनका अहम स्थान है।

एलिस अचोंग – वेस्टइंडीज के एलिस अचोंग भी चाइनमैन गेंदबाज़ कहे गए । उन्होने अपने करियर की शुरुआत 1930 में की ।एलिस ने वेस्टइंडीज के लिए 8 टेस्ट मुकाबले खेले हैं। इंग्लैंड के खिलाफ मैनचसेटर में 1933 में वॉल्टर रॉबिन्स को उन्होंने  खास गेंद से आउट करके  हर किसी को हैरान कर दिया था।

गैरी सोबर्स – वेस्टइंडीज के गैरी सोबर्स सर्वाकालिक ऑलराउंडर में से एक रहे हैं । उनका गेंदबाज़ी एक्शन भी चाइनामैन जैसा था । गैरी सोबर्स ने अपने टेस्ट करियर में 235 विकेट लिए ।सोबर्स की घातक गेंदबाज़ी के आगे बड़े -बड़े बल्लेबाज़ भी नहीं टिक पाते थे।

जॉनी वार्डले- इंग्लैंड के जॉनी वार्डले भी एक चाइनामैन गेंदबाज़ थे। उन्होंने इंग्लैंड में बहुत ही प्रयोग किए हैं।इस गेंदबाज़ ने अपने करियर में 102 विकेट लिए।

ब्रैड हॉग –  2003 और 2007 विश्व कप ऑस्ट्रेलिया की विश्व विजेता टीम का हिस्सा रहे ब्रैड हॉग भी एक चाइनामैन गेंदबाज़ थे उन्होंने अपने करियर में कई कमाल किए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here