पिता को मरा समझ बेटों न करा लिया मुंडन, चार घंटे बाद अर्थी से उठ खड़ा हुआ बुजुर्ग, कहा कुछ ऐसा

0
92

जयपुर, राजस्थान के झुंझनू में अजीबोगरीब मामला सामने आया है। जहां एक बुजुर्ग को मरा समझ पूरा गांव अंतिम दर्शन के लिए आ रहा वहीं परिजन भी उसके अंतिम संस्कार की तैयारी करने लगे। लेकिन वह इंसान अचनाक से खड़ा हो गया। घटना खेतड़ी इलाके के वबाई गांव की बताई जा रही है। जहां करीब चार घंटे बाद फिर से बुजुर्ग मे सासे लौट आई। वहीं बुजूर्ग के वापस जिंदा होनें से परिवार में खुशियों का माहौल बना हुआ है।

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार करीब 95 साल के बुद्धराम गुर्जर की शनिवार दोपहर मौत हो गई थी। इसके बाद गांव के सभी लोगों ने देखा तो पाया कि वह प्राण त्याग चुका है। जिसके चलते उसके परिजनों ने रिश्तेदारों को फोन कर दिया औऱ उसके अंतिम संस्कार की तैयारिया करने लगे।

वहीं गांव के लोग भी उसके अंतिम दर्शनों के लिए आ गए। साथ ही बेटो ने अंतिम संस्कार के लिए मुंडन भी करवा लिया व अर्थी तैयार कर दी। यहां तक की सभी तैयारिया पूरी कर ली गई थी। बस कमी थी तो अर्थी को उठाकर चलने की ही थी। अचनाक से इसके बाद वह हुआ जिसकी किसी को कल्पना भी नहीं थी।Image result for मौत के बाद जिंदा हुआ बुद्धराम

इस दौरान परिजनों ने देखा कि बुद्धराम के शरीर मे हल्की हलचल हुई। तभी परिजनों ने उसे झझौड़ा तो उसकी सांसे चलने लगी. वहीं उसके बाद उसके मुंह में पानी डाला गया। इसके बाद परिजन आवाज लगाकर उससे पूछने लगे की वह कौन है। तो बुद्धराम ने सभी को सही पहचाना और इसके बाद गांव वालों सहित पूरे परिवार में खुशी का महौल पैदा हो गया।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here