पाकिस्तान पर फिर एफएटीएफ की लटकी तलवार, आगामी चार माह में नही सुधरा तो हो जायेगा ब्लैक लिस्ट

0
57

जयपुर।पाकिस्तान को एक मौका और मौका देते हुए फाइनेशियल एक्शन टास्क फोर्स ने फिलहाल पाकिस्तान को ब्लैक लिस्ट नही करने का फैसला लिया है,लेकिन पाकिस्तान को एफएटीएफ ने किसी भी तरह की राहत नही देते हूए उसे प्रतिंबधित सूची या ‘ग्रे लिस्ट’ में ही रखा गया है और 27 बिंदुओं को पूरा करने के लिए फरवरी 2020 तक का समय दिया गया है।

जिससे अब पाकिस्तान पर फाइनेंशियल एक्शन टास्क फोर्स की तलवार आगामी चार महीनों के लिए फिर लटक गई है।

सूत्रों ने बताया है कि यदि पाकिस्तान को दी गई समयावधि तक वह आतंकी फंडिंग और मनी लांड्रिंग पर ठोस कार्रवाई नही करता है,तो फाइनेंशियल एक्शन टास्क फोर्स पाकिस्तान के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करते हुए ब्लैक लिस्ट कर देगा।

फ्रांस की राजधानी पेरिस में हुई एफएटीएफ की बैठक में पाकिस्तान से कहा गया है कि वह फरवरी 2020 तक अपनी पूरी कार्ययोजना को तेजी से पूरा करने का एक्शन प्लान प्रस्तुत करे।एफएटीएफ ने कहा है कि यदि वह निश्चित समयावधि के अंतर्गत ठोस कदम नहीं उठाता है तो उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई होगी। जिसमें एफएटीएफ के सदस्यों से पाकिस्तान के साथ व्यापारिक संबंधों और लेन-देन पर विशेष ध्यान देने का आग्रह करना शामिल है।

सूत्रों ने बताया है कि कि पाकिस्तान ने एफएटीएफ की इस बैठक में अपने मूल्यांकन पर खराब प्रदर्शन किया है जिसके कारण आने वाले सालों में उसके ग्रे लिस्ट से बाहर आने की संभावनाएं घटकर शून्य हो जायेगी।दूसरी तरफ बताया जा रहा है कि आगामी चार माह बाद वह फरवरी 2020 में ब्लैकलिस्ट किया जा सकता है और इसको लेकर पाकिस्तान को कड़ी चेतावनी भी जारी कर दी गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here